Nivesh Kise Kahate Hain? - शुरुआती के लिए एक सहज गाइड

Jitanchandra Solanki
41 मिनट मे पढ़ेंं

अपने धन की वृद्धि कौन नहीं चाहता? लेकिन सही जगह पर अपने पैसे को बुद्धिमामत्ता से निवेश करना आसान नहीं है, खाशकर अगर कोइ एक शुरुआती निवेशक हो तो। यह पता लगाना कि निवेश कहां से शुरू करना है, एक चुनौती हो सकती है। बाजार मे बहुत सारे पूंजी निवेश के विकल्प उपलब्ध हैं, जो किसी को भी उलझन में डाल सकता है।

Nivesh kya hota hai? निवेश कैसे किया जाता है? - यह कुछ आम सवाल है जो हर शुरुवाती के मन में आता है। 

Nivesh के बारे में यह लेख खास कर वित्तीय दुनिया में शुरुवाती के लिए बनायीं गयी है। यहाँ nivesh kise kahate hain से जुड़ें आपके सारे प्रश्नों का उत्तर आपको मिलेगा। 

पढ़ने का आनंद लें

Nivesh Kise Kahate Hain? What Is Investment In Hindi?

हम सभी ने अंग्रेजी में investment शब्द सुना है। Investment ka Hindi है निवेश। 

निवेश से जुडी सबसे पहला प्रश्न है निवेश का अर्थ क्या होता है?

सहज भाषा मे निवेश केवल आपके धन को एक संपत्ति में डालना है, ता की वो आय कर सके, या मूल्य में बढ़ सके।

उदाहरण के रूप में, ज़मीन जायदाद। यदि आप किराए पर देने के इरादे से घर खरीदते हैं, तो यह एक आय पैदा करने वाली संपत्ति है। यदि आप पुनर्निर्मित करने और उच्च कीमत के लिए बेचने के इरादे से एक घर खरीदते हैं, तो आपके संपत्ति को मूल्य में सराहना मिलेगी।

वैसे ही शेयरों में निवेश कीया जा सकता है। एक शेयर एक कंपनी का एक छोटा टुकड़ा है। यदि कंपनी शेयरधारकों को लाभांश का भुगतान करती है, तो यह निवेश आय का एक रूप है। अगर कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ने के बाद आप अपने शेयरों को बेचते हैं, तो आप मुनाफा कमाते हैं। तो यह भी इन्वेस्टमेंट इन हिंदी का एक रूप है। 

एक लाइव खाता खोलें

लाइव बाज़ारों में ट्रेड करें और कॉपी ट्रेडर्स की सदस्यता लें कुशलता से निवेश करें

 

सबसे लोकप्रिय निवेश विकल्प

निवेश का अर्थ के बाद चलिए अब बात करते है आप किस चीज में निवेश कर सकते हैं?

दुनिया में अनगिनत निवेश विकल्प है, जिनमें से सबसे लोकप्रिय हैं:

✔️ शेयर

✔️ ईटीएफ

✔️ कमोडिटीज या वस्तुएं

✔️ फोरेक्स या विदेशी मुद्रा

✔️ क्रिप्टोकरेंसी

✔️ सूचकांक

✔️ रियल एस्टेट

✔️ बॉन्ड

इत्यादि

सबसे लोकप्रिय निवेश विकल्पों के बारे में अधिक जानने के लिए आप हमारा यह लेख पढ़ सकते हैं:

Types Of Financial Instruments - एक गाइड   

आपको Investment Hindi क्यूं करना चाहिए?

कोई भी शुरुआती के लिए निवेश का विषय आमतौर पर इस सवाल से शुरू होता है - आखिर निवेश क्यों करें? इसका सीधा जवाब है, आपकी दौलत का निर्माण करने के लिए।

कीमतें समान नहीं रहते। एक समय था जब दूध की कीमत सिर्फ ५ पैसे प्रति लीटर थी। आज देखिये वो कहा पर है। यह मुद्रास्फीति है - वह दर जिस पर समय के साथ वस्तुओं और सेवाओं की कीमत बढ़ती है।

इसका अर्थ है कि आपके बैंक खाते में नकदी का मूल्य समय के साथ घटता जाता है। और यही सबसे बड़ी चुनौती है। आज ₹ 100 के साथ आप जो खरीद सकते हैं, आज से 50 साल पहले उसका मूल्य काफी कम थी। इसका मतलब आपके बटुए मे जो ₹ 100 है, वो आज से ५० वर्ष पहले ज़्यादा सामान ला सकता था।

निवेश या इन्वेस्टिंग का लाभ यह है कि आप मुद्रास्फीति की दर की तुलना में अधिक लाभ कमा सकते हैं।

दुर्भाग्य से, अधिकांश बैंक खाते आज ज़्यादा ब्याज नहीं देते। इसलिए जब आप अपने पैसा निवेश कर रहे हैं, तो आपको इसे ऐसे उपक्रमों में रखना चाहिए जो आपके धन को बढ़ने के लिए उच्च दरों की वापसी की क्षमता प्रदान करें। और वो भी अधिक समय तक।

जोखिम मुक्त डेमो खाता के साथ ट्रेड करें

आभासी धन के साथ ट्रेडिंग का अभ्यास करें

 

चक्रवृद्धि वापसी की शक्ति - निवेश Meaning

तो अब देखते है के investments in Hindi प्रक्रिया क्या है।

प्रत्येक निवेश में वापसी की दर होती है, वो दर जिसके अनुसार समय के साथ आपका निवेश में वृद्धि होती है।

➤ उदाहरण के लिए, मान लें की एक बचत खाता प्रति वर्ष 4% ब्याज का भुगतान कर सकता है। इसका मतलब है कि यदि आप ₹ 10,000 उस खाते में डालते हैं, तो एक वर्ष में आपको ₹ 400 की वापसी मिलती है, जिससे आपका कुल निवेश ₹ 10,400 तक पहुंच जाएगा।

यदि आप अगले वर्ष वो पैसा बैंक खाते में ही रखते हैं, तो आप अगले वर्ष फिरसे 4% कमायेंगे। लेकिन, क्योंकि दूसरे वर्ष के लिए आपका शुरुआती शेष ₹ 10,400 है, इसलिए 4% ब्याज ₹416 होगा। यह आपके कुल खाते की राशि को ₹10,816 तक लाएगा।

हर साल आप अपने बढ़ते खाते के शेष पर ब्याज अर्जित करते रहेंगे।

➤ दूसरी ओर, मान लें की शेयर बाजार में सालाना 8% की वृद्धि हो सकती है। इसका मतलब है कि यदि आपने वह ₹ 10,000 शेयर बाजार में निवेश किये होते, तो एक वर्ष में आपके निवेश का मूल्य ₹10,800 होता। 

यदि आपने एक और वर्ष के लिए निवेश में अपना पैसा छोड़ दिया, तो आप एक और 8% कमाएंगे। क्योंकि आपका निवेश अब ₹ 10,800 है, तो 8% के हिसाब से आपको दूसरी वर्ष ₹ ८६४ मिलेगा। तो आपका पैसा कुल में ₹ 11,664 तक पहुंचेगा। 10 साल बाद, आपके पास ₹ २१,589.25 होगा, भले ही आपने अतिरिक्त धनराशि के साथ अपने निवेश को कभी नहीं बढ़ाया हो।

यदि आप एक हर महीन इस निवेश में 500 रूपए डालते हैं, तो 10 वर्षों में आपके पास ₹ 111,651.39 होगा!

✳️ बचत बनाम निवेश

बचत और निवेश का सबसे बड़ा लाभ चक्रवृद्धि वापसी (या आपके वापसी के ऊपर वापसी) अर्जित करने की क्षमता है। समय के साथ वापसी की दर जितनी अधिक होगी, उतनी ही तेजी से आपका निवेश बढ़ेगा। 

बचत और सक्रिय रूप से निवेश करने के बीच सबसे बड़ा अंतर यह है कि निवेश समय के साथ वापसी कमाता है। हालांकि अच्छे जोखिम प्रबंधन और धन प्रबंधन प्रथाओं का उपयोग करना ज़रूरी है।

➤ एक बचत खाता आपके बूढ़े दिनों के लिए पैसे बचाने में मदद करने के लिए है।

➤ निवेश आपके धन को कई निवेश वाहनों में डालकर विकसित करने की कोशिश पर केंद्रित है।

ऊपर उल्लेख किये गए निवेश विकल्पों में से अधिकांश बचत खाते की तुलना में अधिक उच्च दर अर्जित करते हैं। हालांकि, यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि उसमे जोखिम के विभिन्न स्तरें भी शामिल हैं।  

कितने पैसे से निवेश शुरू करना चाहिए? - निवेश के तरीके

शुरुआती निवेशकों के लिए investment ka Hindi पर विचार करते समय, कितना पैसा निवेश करना चाहिए यह एक महत्वपूर्ण सवाल है।

यह तीन मुख्य कारकों पर निर्भर करता है:

❶ आपका वित्तीय लक्ष्य क्या है?

❷ आप कितना निवेश कर सकते हैं?

❸ आपकी जोखिम सहिष्णुता क्या है?

सामान्य तौर पर, वित्तीय बाज़ारें दीर्घकालिक रूप से ऊपर जाते हैं, जिसका अर्थ है कि दीर्घकालिक लाभ किसी भी अल्पकालिक उतार-चढ़ाव से बचे रहेंगे।

आइये अब ऊपर बताये गए 3 कारकों को देखें....

दुनिया के शीर्ष उपकरणों में निवेश करें

आपकी उंगलियों पर हजारों स्टॉक और ईटीएफ

 

❶ आपका निवेश के लक्ष्य क्या है?

सबसे पहले, अपने आप से पूछें: आपके वित्तीय लक्ष्य क्या हैं? आप क्यों निवेश कर रहे हैं? भविष्य में आपको कितने धन की आवश्यकता होगी और कब ?

लोग विभिन्न कारणों से निवेश करते हैं, जैसे के

✔️ घर या गाड़ी खरीदने के लिए
✔️ अपने बच्चे की विश्वविद्यालय शिक्षा के लिए
✔️ एक व्यवसा को बढ़ाने के लिए
✔️ अपनी सेवानिवृत्ति के लिए
✔️ इत्यादि

आम तौर से अधिकांश लोग सेवानिवृत्ति को ध्यान में रखते हुए निवेश करते हैं। कई पश्चिमी देशों में रिटायर होने के बाद लोगों के लिए पेंशन योजना है, या आप कोई पेंशन फण्ड मे अपना पैसा लगा सकते हैं, लेकिन मुद्रास्फीति के कारण ये योजनाएं कम आकर्षक होती जा रही हैं। लेकिन भारत में ऐसी कोई योजना नहीं है, और इसी लिए सेवानिवृत्ति को ध्यान में रखना बहुत ही महत्वपूर्ण है।
अगर आपके सेवानिवृत्ति पर कोई पेंशन उपलब्ध है, तो यह विचार करना महत्वपूर्ण है कि क्या वो आप जिस जीवन शैली में जीना चाहते हैं, उसके लिए काफी है?

इसे ध्यान में रखते हुए, यह महत्वपूर्ण है आप:

1. अपने वित्तीय लक्ष्यों को स्पष्ट करें 
2. उन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक समय सीमा चुनें

एक बार जब आपके पास एक लक्ष्य और एक समय सीमा होती है, तो आप गणना कर सकते हैं कि आपको अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पर्याप्त धनराशि निर्धारित करने के लिए प्रति माह या प्रति वर्ष (वापसी की अपेक्षित दर को ध्यान में रखते हुए) कितनी धन निवेश करने की आवश्यकता है।

कई मामलों में, लंबी अवधि के लक्ष्यों को प्राप्त करना आसान होता है। इसका कारन है चक्रवृद्धि वापसी की शक्ति (जिसकी हमने पहले चर्चा की थी)। 

❷ आप कितना निवेश कर सकते हैं?

Invest in Hindi समझते समय कई गुरु आपकी शुरुआती आय के 5% या 10% को शुरुआती बिंदु के रूप में निवेश करने की सलाह देते हैं। लेकिन अपने सभी पैसे का निवेश क्यों न करें, अगर इससे आपको अपने लक्ष्य तक पहुँचने में तेज़ी मिलेगी तो?    

जबकि यह सुनने में अच्छा लगता है, सच्चाई यह है कि न केवल आपको दिन-प्रतिदिन के खर्चों और विलासिता के लिए उस पैसे की आवश्यकता है, बल्कि आपको आपात स्थिति के लिए अलग से धन रखने की भी आवश्यकता है। हाला की आप अतिरिक्त नकदी के लिए अपनी परिसंपत्तियों को बेच सकते हैं, लेकिन कोई भी ऐसा करना नहीं चाहेगा। इसलिए यदि आप आपातकालीन समस्यायों के लिए एक निधि बनाएं, तो वो बेहतर रहेगा।

निवेश के लिए एक प्रारंभिक बिंदु समझने के लिए अपने वर्तमान खर्च पर नज़र रखना शुरू करें, ता कि आप यह जान पाएं के आप कहाँ कटौती कर सकते हैं। 

उन आदतों की पहचान करें और उन पर कटौती करें, ताकि वह निधियों को मुक्त कर आप उन्हें निवेश कर सकें।

आत्मविश्वास के साथ बाजारों में व्यापार करें

सभी व्यापारियों के लिए विशेष शैक्षिक संसाधन

 

❸ आप कितना निवेश जोखिम स्वीकार करने के लिए तैयार हैं?

Definition of investment in Hindi के बारे में चर्चा करते समय जोखिम सहिष्णुता, या जोखिम लेने की क्षमता एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है। यह आमतौर पर आपके वर्तमान आय, बचत, व्यय, वित्तीय दायित्वों (जैसे एक बंधक का भुगतान) जैसे कारकों पर निर्भर करता है। और क्या आपके पास उपयुक्त जीवन और स्वास्थ्य बीमा है?

एक अविवाहित आदमी, जो पूरे समय काम करता है, और घर खरीदने के लिए पैसे बचा रहा है, उनका जोखिम सहिष्णुता अधिक होगी। वह खर्च कम करंगे, और वो बाकि आय निवेश करेंगे। क्यूंकि उनके पास कोई ज़िम्मेदारी नहीं है, तो वह बाजार ज़्यादा जोखिम लेके अपना पैसे को दाओ मे लगाने के लिए तैयार होंगे। 

इसके विपरीत, अगर ऐसा कोई है जो अपने परिवार का एकमात्र कमानेवाला है, तो उसके पास बहुत सारे वित्तीय दायित्वों होंगे। ईसका अर्थ है कि उनकी जोखिम सहिष्णुता बहुत कम होगी। उनके लिए, यह बहुत बड़ा मुद्दा है। अगर कुछ गलत हो जाता है, तो न केवल उनके पास कोई अतिरिक्त आय नहीं है। बल्कि उनकी आय के आधार पर कई लोगों का जीवन निर्भर हैं। इस कारण से, वे संभवत: कम राशि का निवेश करेंगे ताकि हमेशा कुछ आपातकालीन नकदी हाथ में रखेंगे।

निवेश की समय सीमा भी जोखिम सहिष्णुता को प्रभावित कर सकती है। जबकि वित्तीय बाजार समय के साथ बढ़ते हैं, छोटी अवधि की कमी और दुर्घटनाएं होती हैं। यदि आपके पास धनराशि की आवश्यकता होने से पहले कुछ साल हैं, तो आप अपने पोर्टफोलियो को उच्च-जोखिम, उच्च-प्रतिफल निवेश विकल्पों में उजागर कर सकते हैं। युवा पीढ़ी जिनके पास अपनी सेवानिवृत्ति तक पहुंचने से पहले कई दशक होते हैं, शायद अधिक जोखिम उठा सकते हैं। एक उच्च-जोखिम - उच्च-वापसी निवेश रणनीति में स्टॉक्स और क्रिप्टो सीएफडी शामिल होगी।

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती हैं, आपकी रणनीति कम जोखिम - काम वापसी प्रोफाइल में बदल सकती है। मुद्रा और कमोडिटी बाजार अत्यधिक तरल हैं, और 30 से 60 वर्ष की आयु के बीच व्यापारियों के लिए ज्यादा उपयुक्त है। यह एक ऐसा समय भी हो सकता है, जब आप अपने स्टॉक होल्डिंग्स को कम करना चुनते हैं। याद रखें, यहां कोई सेट फॉर्मूला नहीं है; यह सब आपके वर्तमान वित्त, आपके दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों और आपके जोखिम सहिष्णुता पर निर्भर करता है।

यदि आप निवेश जोखिम के बारे में चिंतित हैं, तो ट्रेडिंग का परीक्षण करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है डेमो ट्रेडिंग खाता खोलना। डेमो खाता के साथ, आप लाइव बाजार डेटा का इस्तेमाल सकते हैं, और वास्तविक ट्रेडिंग और निवेश प्लेटफॉर्म का जोखिम मुक्त उपयोग कर सकते हैं। अपने स्वयं के पैसे का निवेश करने के बजाय, आपके पास एक आभासी खाता शेष होगा, जिससे आप यह देखेंगे की निवेश कैसे करते हैं और वो कैसे बढ़ता है!

नीचे दिए गए तस्वीर पर क्लिक करके आज ही अपना निःशुल्क डेमो खाता प्राप्त करें।

जोखिम मुक्त डेमो खाता

मुफ़्त ऑनलाइन डेमो खाता के लिए पंजीकरण करें और अपनी ट्रेडिंग रणनीति में महारत हासिल करें

 

आपको कब Investment Hindi शुरू करना चाहिए?

एक पुरानी चीनी कहावत है:

"पेड़ लगाने का सबसे अच्छा समय २० साल पहले था। और दूसरा सबसे अच्छा समय है आज।"

जब शुरुआतीयों के निवेश की बात आती है, तो संचयी रिटर्न की शक्ति के कारण जल्द से जल्द निवेश शुरू करना सबसे अच्छा है।

हालांकि, अगर आपने अभी तक शुरुआत नहीं किया है, तो घबराने की जरूरत नहीं है। आज ही सबसे अच्छा समय है। बस: जितनी जल्दी आप शुरू करते हैं, उतनी ही जल्दी आप चक्रवृद्धि वापसी से लाभ लेना शुरू कर सकते हैं, और उन वापसी को आप लंबी अवधि तक जमा कर सकते हैं।

जब निवेश करने के लिए पर्याप्त पैसा बचाने की बात आती है, तो आपातकालीन निधि को अलग रखना हमेशा एक अच्छा विचार है। यह राशि आपके जोखिम सहिष्णुता और वित्तीय स्थिति के आधार पर सभी के लिए अलग-अलग होगी - लेकिन आम तौर पर आपके तीन महीने के खर्च एक अच्छा निधि है

निवेश कैसे शुरू करें? - Investment In Hindi Meaning

अब जब हमने आपको nivesh ka arth से परिचित कराया है, तो अगला कदम यह है कि आप कैसे निवेश शुरू कर सकते हैं। खुश ख़बरी यह है कि पहले से अब कहीं अधिक ऑनलाइन निवेश विकल्प हैं जो निवेश को आसान बना दिया है।

सिर्फ 3 चरण से आप निवेश शुरू कर सकते हैं:

चरण 1: एक निवेश खाता बनाएँ - एक विश्वसनीय ब्रोकर के साथ एक डेमो या लाइव खाता खोलें। 

चरण 2: निवेश प्लेटफार्म डाउनलोड करें - एक लोकप्रिय वैश्विक निवेश प्लेटफार्म चुनें - जैसे के मेटाट्रेडर 4 या मेटाट्रेडेर 5.

चरण 3: उन बाजारों को चुनें जिनमें आप निवेश करना चाहते हैं - ट्रेडिंग और निवेश के लिए कई प्रकार की संपत्तियां और बाज़ारें उपलब्ध हैं जो आपको दुविधा मे डाल सकता है। इसलिए इनमें से प्रत्येक के अच्छे और बुरे चीज़ों का जानना ज़रूरी है।

दुनिया का प्रमुख बहु-परिसंपत्ति प्लेटफार्म

 

Paisa Invest Kaha Kare?

दुनिया में बहुत सारे निवेश के प्रकार है। कोई भी niveshak को अपना पैसा एक ही जगह नहीं रखना चाहिए। बल्कि कई सारे संपत्ति बर्गो में बांटना चाहिए।

निवेश के सबसे लोकप्रिय विकल्प निम्नलिखित है: 

✳️ शेयर

एक स्टॉक सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनी का एक टुकड़ा है, या एक भाग के स्वामित्व का प्रतिनिधित्व करता है। स्टॉक का मूल्य कंपनी के प्रदर्शन से जुड़ा हुआ है। आम तौर पर, यदि व्यवसाय अच्छा प्रदर्शन कर रहा है, तो शेयर की कीमत बढ़ जाएगी। यदि कोई कंपनी खराब प्रदर्शन कर रही है, तो शेयर की कीमत घट जाएगी।

✳️ सूचकांक

सूचकांकों में ट्रेडिंग का एक लाभ यह है कि क्योंकि आप समग्र रूप से बाजार पर कारोबार कर रहे हैं, आप लंबी अवधि के रुझानों से लाभान्वित हो सकते हैं, और व्यक्तिगत शेयरों के कमजोर प्रदर्शन आपको ज़्यादा प्रभाव नहीं करेंगे। 

दुनिया के अन्य लोकप्रिय सूचकांकों में शामिल हैं:

DAX30 - जर्मनी की ३० सबसे बड़ी और सबसे तरल कंपनियों का प्रतिनिधित्व करता है

S&P500 - अमेरिका में ५०० सबसे बड़ी सूचीबद्ध कंपनियों का प्रतिनिधित्व करता है

DJI 30 - डॉव जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज अमेरिका में सबसे बड़ी सूचीबद्ध कंपनियों में से ३० का प्रतिनिधित्व करता है

भारत में बैठके दुनिया के प्रमुख शेयर में निवेश करना चाहते हैं? Admiral Markets के साथ आप अपने घर पे बैठके इन सभी स्टॉक एक्सचेंज पर ऑनलाइन शेयर ट्रेडिंग कर सकते हैं। बस नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें और शुरू हो जाएं!

✳️ एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ)

ईटीएफ या एक्सचेंज ट्रेडेड फंड एक विशिष्ट उद्योग से संबंधित शेयरों का एक संग्रह है। ईटीएफ इंडेक्स-आधारित निवेश हैं, जिनका प्रदर्शन सम्बंधित सूची या इंडेक्स पर आधारित है। इनका लक्ष्य सूचकांक के रिटर्न का नकल करना है। स्टॉक सूचकांकों के साथ साथ आप इनमे निवेश करके दीर्घकालिक वृद्धि और लाभ कमा सकते हैं।

ईटीएफ सीएफडी

सबसे लोकप्रिय एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) पर सीएफडी ट्रेड करें

 

✳️ विदेशी मुद्रा या फोरेक्स

विदेशी मुद्रा बाजार (जो फोरेक्स बाजार या FX बाजार के रूप में भी जाना जाता है) वो बाजार है जहां मुद्राओं का व्यापार होता है। विदेशी मुद्रा दुनिया का सबसे तरल बाजार है, जिसका औसत दैनिक कारोबार लगभग $ ५,३०,००० करोड़ है। यह सप्ताह में पांच दिन २४ घंटे बाजार खुले रहते हैं। 

विभिन्न प्रकार के विदेशी मुद्रा जोड़े हैं - 'फॉरेक्स मेजर', 'फॉरेक्स माइनर्स' और 'फोरेक्स एक्सोटिक' शामिल हैं।

बाजार में सबसे अधिक तरल मुद्रा जोड़े हैं:

✔️ GBPUSD

✔️ EURUSD

अन्य महत्वपूर्ण मुद्रा जोड़े हैं:

✔️ USDCHF

✔️ USDJPY

✳️ क्रिप्टोकरेंसी

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना बेहद रोमांचक हो सकता है। क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग अब मुख्यधारा बन गई है, विशेष रूप से २०१७ में इस बाजार की अभूतपूर्व वृद्धि के बाद। 

बिटकॉइन इसमें सबसे आगे है, और अन्य सभी क्रिप्टो को ऑल्टकॉइन (या बिटकॉइन के विकल्प) के रूप में जाना जाता है। निवेश की संभावनाओं के संदर्भ में, आप एक निवेश के रूप में क्रिप्टो सिक्के खरीद सकते हैं। जब बाजार में वृद्धि होती है तो उन्हें उच्च कीमत पर बेचने का लक्ष्य रखिये।

✳️ कमोडिटी या वस्तुएं

यह कच्चे माल हैं, जैसे के अनाज, मक्का, कपास, सोना, चांदी, तांबा, कच्चे तेल, आदि। यह अलग-अलग एक्सचेंजों पर कारोबार करते हैं, और इनके लिए विशेष एक्सचेंज भी हैं। उदाहरण के लिए, लंदन मेटल एक्सचेंज केवल धातु की वस्तुओं का वहन करता है।

पोर्टफोलियो विविधीकरण के लिए कमोडिटीज एक अच्छा संपत्ति विकल्प हैं।

कमोडिटी सीएफडी ट्रेड करें

कच्चे तेल, कॉफी, सोना, चांदी और अन्य पर सीएफडी का व्यापार करें!

 

✳️ बॉन्ड

कंपनियां, सरकारें और दूसरी एजेंसियां पूंजी जुटाने के लिए बॉन्ड जारी करते हैं। बॉन्ड का एक अंकित मूल्य होता है, जो एक निश्चित दर है। यह बॉन्ड के बाजार मूल्य से भिन्न (अधिक या कम हो सकता है) हो सकता है, जो ब्याज दरों और बॉन्ड की क्रेडिट स्थिति जैसे कारकों के आधार पर निश्चित किया जाता है। बॉन्ड की एक ब्याज दर होती है, जो बॉन्ड के धारक को भुगतान की जाती है।

✳️ अचल संपत्ति (रियल एस्टेट)

अचल संपत्ति शायद दुनिया के सबसे लोकप्रिय प्रकार के निवेश में से एक है। वास्तव में, बहुत से लोगों के लिए उनके संचय का थोक हिस्सा अचल संपत्ति में होता है - आमतौर पर उनके परिवार का घर।

रियल एस्टेट एक लोकप्रिय निवेश है। अचल संपत्ति को किराए मिलने के लिए, आय उत्पन्न करने या लाभ के लिए बेचने के लिए खरीदा जा सकता है।

एक और अच्छा विकल्प है रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स या REIT जिसके द्वारा अचल संपत्ति में पैसा लगाया जा सकता है। यह एक ऐसी कंपनी है, जो रियल एस्टेट में निवेश करती है और संपत्तियों के पोर्टफोलियो का प्रबंधन करती है। 

Nivesh ब्रोकर चुनते समय देखने योग्य बातें

निवेश का मतलब समझ कर शुरुवात करने का एक और विन्दु है एक अच्छा ब्रोकर चुनना। यहाँ सही ब्रोकर चुनना बहुत ही महत्वपूर्ण है जो आपके निवेश यात्रा को समर्थन करे। 

यहाँ सही ब्रोकर चुनने के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं:

✔️ हमेशा एक विनियमित ब्रोकर चुनें  
✔️ ध्यान दें की वह आपको बाजार की एक विस्तृत श्रृंखला तक पहुंच प्रदान करे 
✔️ उनके ग्राहक सहायता की जाँच करें
✔️ उनकी वेबसाइट ब्राउज कर वैक्षिक संसाधनों को देखें 
✔️ ब्रोकर की वित्तीय सुरक्षा नीतियों पर ध्यान दें

आपको यह सब और बहुत ज़्यादा प्रदान करते हैं। अगर आप लाइव बाज़ारों में ट्रेडिंग करने के लिए तैयार नहीं हैं, तो चिंता न करें। 

डेमो खाता के साथ, आप बिना जोखिम फोरेक्स जोड़े, स्टॉक इंडेक्स, कमोडिटीज, क्रिप्टोकरेंसी और सीएफडी और हजारों उपकरणों का ट्रेडिंग कर सकते हैं। यह आपको यह देखने का मौका देगा कि बाजार की आप कैसे आगे बढ़ सकते हैं। और यह आपको मेटाट्रेडर 5 निवेश मंच मे जोखिम मुक्त निवेश का भी स्वाद देगा!

नीचे दिए गए बैनर पर क्लिक करके आज ही आरंभ करें।

जोखिम मुक्त डेमो खाता के साथ ट्रेड करें

आभासी धन के साथ ट्रेडिंग का अभ्यास करें

 

 

निवेश का क्या अर्थ?

सहज भाषा मे निवेश केवल आपके धन को एक संपत्ति में डालना है, ता की वो आय कर सके, या मूल्य में बढ़ सके।

 

निवेश के क्या उद्देश्य है?

निवेश का मूल उद्देश्य है धन उत्पन्न करना है, ताकी आप मुद्रास्फीति की दर की तुलना में अधिक लाभ कमा सकें। 

 

निवेश कैसे करें?

आप बस 3 चरणों में निवेश करना शुरू कर सकते हैं:

चरण 1: एक निवेश खाता बनाएँ
चरण 2: निवेश प्लेटफार्म डाउनलोड करें
चरण 3: उन बाजारों को चुनें जिनमें आप निवेश करना चाहते हैं

 अगर आप ट्रेडिंग के बारे में और विस्तार से जानना चाहते हैं, तो यह लेख पड़ें:

Trading For A Living कैसे करें? - एक सम्पूर्ण गाइड

विदेशी मुद्रा व्यापार शुरू करने के लिए minimum amount required for day trading in India

Forex vs Stocks - व्यापार करने के लिए सबसे अच्छा बाजार कौन सा है?

 

Admiral Markets एक विश्व स्तर पर विनियमित विदेशी मुद्रा और सीएफडी ब्रोकर जो बहु-पुरस्कार का विजेता है। बहुत सारे उपकारणों के इलावा एडमिरल मार्केट्स के वेबसाइट में कई सरे शिक्षा सम्बंधित लेखे है जहाँ से आपको फोरेक्स, शेयर मार्किट, निवेश और भी बहुत कुछ के बारे मे  तथ्य मिलेगा। दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से 500 से अधिक वित्तीय साधनों पर व्यापार की पेशकश करते हैं: मेटा ट्रेडर 4 और मेटा ट्रेडर 5 ।आज ही ट्रेडिंग शुरू करें!

 

इस लेख में दिया गया तथ्य को वित्तीय साधनों में किसी भी लेनदेन के लिए निवेश सलाह, निवेश अनुशंसाएं, प्रस्ताव या अनुशंसा के रूप में समझा नहीं जाना चाहिए। कृपया ध्यान दें कि इस तरह का ट्रेडिंग विश्लेषण किसी भी वर्तमान या भविष्य के प्रदर्शन के लिए एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है, क्योंकि समय के साथ परिस्थितियां बदल सकती हैं। कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले, आपको इस विषय से सम्बंधित जोखिमों को समझने के लिए स्वतंत्र वित्तीय सलाहकारों से सलाह लेनी चाहिए।

TOP ARTICLES
Market Crash Meaning In Hindi - सम्पूर्ण गाइड
Market crash meaning in Hindi क्या है? एक शेयर बाजार दुर्घटना बाजारों में कीमतों में अचानक गिरावट है, एक या एक से अधिक प्रकार की संपत्ति में, उदाहरण के लिए, स्टॉक, बांड, ऊर्जा, धातु, कृषि उत्पाद, मुद्राएं, आदि। आमतौर पर यह अचानक गिरावट किसी ऐसी घटना का परिणाम होती है, जो निवेशकों में...
2022 में अपने लिए एक Passive Income स्रोत बनाएं
कुछ अतिरिक्त पैसा और आय का अतिरिक्त स्रोत बनाना कौन नहीं चाहता, है ना? जीवन शैली का परिवर्तन के साथ साथ हमारे सपने बदलते रहते हैं और जिम्मेदारियां भी। कोई एक नया घर खरीदना चाहते हैं, तो कोई अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करना चाहते हैं या कोई दुनिया का सैर करना चाहते हैं।जबकि हम सभी के पास दूसरी...
Leverage Meaning In Hindi - 15 मिनट का संक्षिप्त गाइड
जब फोरेक्स और सीएफडी ट्रेडिंग की बात आती है, तो नए व्यापारियों को समझने के लिए सबसे महत्वपूर्ण अवधारणाओं में से एक लीवरेज है। यदि आप एक नौसिखिया व्यापारी हैं और इस प्रश्न का उत्तर खोज रहे हैं कि 'लिवरेज का क्या अर्थ है?' - तो आप सही जगह पर आये हैं।इस लेख में, हम बारीकी से जांच करेंगे कि leverage mea...
सभी देखें