सबसे महत्वपूर्ण Financial Markets - एक अवलोकन

Jitanchandra Solanki
24 मिनट मे पढ़ेंं

कोविद-१९ से स्वास्थ्य लाभ और अमरीका में नया राष्ट्रपति के साथ २०२१ एक ऐतिहासिक वर्ष हो सकता है। चाहे आप दिन में 24-घंटे या सप्ताह में पांच दिन विदेशी मुद्रा बाजार में व्यापार करने की योजना बना रहे हों या दुनिया के 15 सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंजों से स्टॉक और शेयर खरीदना या बेचना और कमोडिटी बाजारों जैसे सोना, चांदी और तेल पर सट्टा लगाना चाहते हो- २०२१ ट्रेडिंग शुरू करने के लिए एक अच्छा वर्ष है।

Financial markets के इस हिंदी लेख में आप financial market क्या है जानने के साथ साथ व्यापार करने के लिए उपलब्ध विभिन्न types of financial market के बारे में जानेंगे और कैसे वे पिछले कई वर्षों में बदल गए हैं। कौनसे वित्तीय बाज़ारें २०२१ में ध्यान केंद्रित करने योग्य हो सकते हैं, हम उसके बारे में भी चर्चा करेंगे।

आप यह भी सीखेंगे कि वित्तीय बाजारों में कैसे शुरुआत करें और पूरी तरह से जोखिम मुक्त व्यापार करके कैसे अभ्यास करें और एक अत्याधुनिक ऑनलाइन ट्रेडिंग रणनीति के बारे में जानेंगे जो आप सीधे उपयोग करना शुरू कर सकते हैं।

 

▶ What Is Financial Market In Hindi?

Financial market definition के अनुसार financial market एक ऐसा बाज़ार है जहाँ वित्तीय प्रतिभूतियों का कारोबार राष्ट्रीय और वैश्विक दोनों स्तरों पर किया जाता है। व्यापारी अपने जोखिम को सीमित रखने की कोशिश करते हुए संभावित लाभ प्राप्त करने के लिए उन प्रतिभूतियों को खरीदते और बेचते हैं।

कई व्यापारी एक ही वित्तीय बाजार पर ध्यान केंद्रित करते हैं, उदाहरण के लिए, शेयर या सीएफडी। लेकिन व्यापार करते समय उपलब्ध सभी वित्तीय बाजारों का अवलोकन करना महत्वपूर्ण है क्योंकि वे एक-दूसरे को प्रभावित कर सकते हैं।

ट्रेडिंग शुरू करें

▶ Classification Of Financial Markets

Financial market in hindi अन्य बाजारों से अलग नहीं है, जहां सामान और उत्पादन खरीदे और बेचे जाते हैं। लेकिन स्थानीय या राष्ट्रीय मुद्रा के लिए सब्जियों, कपड़ों या कंप्यूटरों के आदान-प्रदान के बजाय, वित्तीय बाजार में वित्तीय प्रतिभूतियों, उत्पादों और उपकरणों की खरीद, बिक्री और धारण होते हैं। पिछले कुछ दशकों में vittiya bajar तेजी से विस्तार हुए हैं और अब कई प्रकार के वित्तीय उपकरण का आदान-प्रदान होता है।

Types Of Financial Markets

☑️ विदेशी मुद्रा - विदेशी मुद्रा बाजार या फोरेक्स के रूप में जाना जाता है।

☑️ पूंजी बाजार - जैसे शेयर और बॉन्ड बाजार।

☑️ डेरिवेटिव बाजार - जैसे सीएफडी (अंतर के लिए अनुबंध)।

☑️ कमोडिटी बाजार - जैसे सोना, चांदी और तेल।

☑️ मुद्रा बाजार - जैसे अल्पकालिक ऋण।

☑️ डिजिटल मुद्रा बाजार - जिसमें बिटकॉइन और altcoins शामिल हैं।

☑️ बंधक बाजार - जो दीर्घकालिक ऋण प्रदान करता है।

☑️ बीमा बाजार - जो एक प्रीमियम के लिए जोखिम को स्थानांतरित करता है।

इन वित्तीय बाजारों में से कुछ की प्रकृति दीर्घकालिक है और कुछ की अल्पकालिक है, और कुछ में दोनों का मिश्रण है। उदाहरण के लिए, बंधक बाजार पर कई दीर्घकालिक ऋण होते हैं, जबकि मुद्रा बाजार अल्पकालिक पर केंद्रित होते हैं। फ़ॉरेक्स, स्टॉक, वस्तुएं और सीएफडी को अल्प और दीर्घ - दोनों समय सीमा में ट्रेड किया जा सकता है। पेशेवर व्यापारी अपने दृष्टिकोण और व्यापार शैली के आधार पर निवेश या व्यापार में संलग्न होने का निर्णय ले सकते हैं।

▶ Importance Of Financial Markets - वित्तीय बाजार का महत्व

वित्तीय बाजार क्या है, यह तो हमने देख लिया। लेकिन वित्तीय बाजार की भूमिका क्या हैं?

वित्तीय बाजार अर्थव्यवस्था के लिए एक महत्वपूर्ण उद्देश्य प्रदान करते हैं और छह बुनियादी कार्यों की पेशकश करते हैं:

1️⃣ मूल्य निर्धारण

2️⃣ तरलता

3️⃣ दक्षता (जैसे की लागत लेनदेन की क्षमता)

4️⃣ पारंपरिक उधार

5️⃣ निधियों के प्रवाह के बारे में जानकारी

6️⃣ मुसीबत बांटना

वित्तीय संस्थान वैश्विक बाजारों और समग्र वित्तीय प्रणाली के भीतर धन के प्रवाह और आंदोलन को सुविधाजनक बनाने में मदद करते हैं। इन संस्थानों में वाणिज्यिक बैंक, निवेश बैंक, केंद्रीय बैंक, बीमा फर्म, दलाल और यहां तक कि गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थान (जैसे क्रेडिट यूनियन) शामिल हैं।

वित्तीय बाजारों की भूमिका पूरे इतिहास में समान रही है। प्रौद्योगिकी के आगमन के साथ, हालांकि, अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय बाजार अधिक अंतर हो गए हैं, इसने वैश्विक वित्तीय बाजारों की प्रणाली को पूरे इतिहास में विकसित करने और विस्तार करने में मदद की है।

▶ आजकल के World Financial Markets

आमतौर पर, वित्तीय बाजार के प्रकारों ने पिछले 100 वर्षों से अंतरराष्ट्रीय व्यापार और समग्र वैश्विक अर्थव्यवस्था का समर्थन करने में मदद की है। विशेष रूप से पिछले 25 वर्षों में, जिसमें वित्तीय बाजार और भी जटिल, परिष्कृत और महत्वपूर्ण हो गए हैं।

21 वीं सदी की शुरुआत में, वैश्विक वित्तीय बाजार अधिक गतिशील हो गए और तेजी से बदल गए। आजकल कम विनिमय नियंत्रण, पूंजी नियंत्रण, अधिक वैश्विक वित्तीय लेनदेन और सामान्य रूप से अधिक भुगतान प्रणाली हैं।

अंतरराष्ट्रीय पूंजी प्रवाह, नए वित्तीय साधनों (जैसे डिजिटल मुद्राएं), और नई डिजिटल प्रौद्योगिकियों में भी तीव्र गति है। कुल मिलाकर, यह समाजों को अधिक खुले, उन्नत वित्तीय बाजारों और विधियों के लिए अग्रणी बना रहा है।

यद्यपि उपरोक्त रुझान सामान्य रूप से वित्तीय बाजारों के लिए मान्य हैं, प्रत्येक वित्तीय बाजार की अपनी अलग प्रवृत्ति है। हम विदेशी मुद्रा और शेयर बाजारों के लिए कुछ रुझानों पर चर्चा करेंगे।

#1. विदेशी मुद्रा बाजार - Different Types Of Trading Markets

विदेशी मुद्रा बाजार पिछले कुछ दशकों में बहुत लोकप्रिय हो गया है और पिछले 30 वर्षों में इसकी मात्रा में भारी वृद्धि देखी गई है। नीचे की चार्ट इस प्रवृत्ति को अधिक विस्तार से समझाता है:

जैसा कि आप देख सकते हैं, विदेशी मुद्रा की मात्रा 40 वर्षों के भीतर 1000 के कारक से बढ़ गई है। यह 2001 और 2017 के बीच 267% और 2010 और 2017 के बीच 40% तक बढ़ गया है। इन प्रभावशाली वृद्धि के आंकड़े बताते हैं कि विदेशी मुद्रा बाजार कितना महत्वपूर्ण हो गया है।

इस वृद्धि के कुछ प्रमुख कारक हैं:

➡️ उन्नत कंप्यूटर

➡️ अधिक कीमत की अस्थिरता

➡️ दलालों के माध्यम से वित्तीय बाजारों तक बेहतर पहुंच

➡️ उन्नत ट्रेडिंग टूल और सूचना तक पहुंच

विदेशी मुद्रा उन व्यापारियों के साथ लोकप्रिय है जो लघु और मध्यम अवधि के व्यापार के अवसरों की तलाश में हैं क्योंकि यह सप्ताह में 5 दिन और दिन के 24 घंटे खुला रहता है।

विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग के बारे में और भी विस्तृत में जानना चाहते हैं? तो आज ही हमारी लेख Forex trading क्या है और यह कैसे काम करता है? पड़ें।

#2. शेयर बाजार - Types of financial market

एक और प्रवृत्ति वैश्विक शेयर बाजारों में देखने को मिल सकती है - अमेरिकी शेयर बाजार यकीनन दुनिया के अन्य हिस्सों की तुलना में बहुत अधिक महत्वपूर्ण हो गए हैं। एलॉय डिमसन, पॉल मार्श और माइक स्टैनटन द्वारा लिखित पुस्तक ट्रायम्फ ऑफ़ द ऑप्टिमिस्ट्स (2002) के अनुसार, 20 वीं शताब्दी में अमेरिकी शेयर बाजार एक प्रमुख विजेता था। उनका शोध बताता है कि पिछले 100 वर्षों के भीतर तीन महत्वपूर्ण परिवर्तन हुए हैं:

☑️ अमेरिका ने बाजार प्रभुत्व हासिल किया

☑️ स्टॉक एक्सचेंजों को समेकित किया गया था

☑️ निरपेक्ष (बाजार की गतिविधियां दीर्घावधि में होने वाली) क्षेत्र में नियमित आवर्तन हुआ

यहां कुछ ग्राफ दिए गए हैं जो 1899 और 2016 दोनों में दुनिया के शेयर बाजारों से संबंधित जानकारी प्रदर्शित करते हैं:

स्रोत: याहू फाइनेंस २७ नवंबर २०१९

ये ग्राफ बताते हैं कि अमेरिकी स्टॉक मार्केट 1899 के अंत में 15% से बढ़कर 2016 के अंत में 53.2% हो गया। उनकी हिस्सेदारी तीन गुना से अधिक हो गई।

ब्रिटेन 25% से 6.2% और जर्मनी 13% से घटकर 3.1% पर आ गया। कुछ देश सूची से गायब हो गए, जबकि अन्य ने पहली बार सूची में प्रवेश किया।

कनाडा 1899 में सूची में नहीं था, लेकिन 2016 में 2.9% हिस्सेदारी थी। हालांकि, सबसे उल्लेखनीय बात यह है के उस समय जापान भी सूची में नहीं था, लेकिन 2016 के अंत तक बढ़कर 8.4% हो गया।

शेयर वित्तीय बाजार के उद्योग क्षेत्रों

1900 और 2017 के बीच व्यावसायिक क्षेत्रों में काफी बदलाव आया। 1900 में जो क्षेत्र बहुत मजबूत थे, जैसे कि रेलमार्ग, एक सदी बाद पर्याप्त बाजार हिस्सेदारी खो गए।

स्रोत: याहू फाइनेंस २७ नवंबर २०१९

पिछली सदी के रुझान इस सदी में शायद नहीं दहराएँगे। सौभाग्य से व्यापारियों को यह जानने की आवश्यकता नहीं है कि अब से 100 साल बाद भविष्य कैसा दिखेगा। वे सिर्फ कुछ समय के पैमाने पर व्यापार करना चुन सकते हैं। अंतत: यह समझना सरल है कि वित्तीय बाजार दीर्घावधि के बजाय अल्पावधि में क्या कर सकते हैं, खासकर जब पूरी शताब्दी का विश्लेषण करते हैं।

क्या आप जानते हैं कि एडमिरल मार्केट्स के साथ आप सीएफडी को सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनियों जैसे कि बैंकिंग स्टॉक, प्रगाढिकी स्टॉक या ऊर्जा स्टॉक में व्यापर कर सकते हैं? वास्तव में, मेटा ट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के साथ, आप 1-मिनट चार्ट से मासिक चार्ट तक शेयर की कीमतों की विभिन्न समय-सीमाएं भी देख सकते हैं, जिससे आपको अल्पकालिक और दीर्घकालिक दोनों व्यापार करने में मदद मिलेगी।

मुफ्त में यह प्लेटफार्म डाउनलोड करने के लिए आज ही नीचे बटन पर क्लिक करें!

मेटाट्रेडर ५ डाउनलोड करें

#3. डेरिवेटिव बाजार - Classification Of Financial Markets

डेरिवेटिव्स प्रतिभूतियां वित्तीय बाजार के प्रकार हैं जो एक अंतर्निहित परिसंपत्ति से जुड़ी हैं और कभी-कभी मूल्य परिवर्तन के खिलाफ बचाव के रूप में उपयोग की जाती हैं। ऑप्शन, फ्यूचरस और सीएफडी सभी डेरिवेटिव के उदाहरण हैं। सट्टेबाज इन उपकरणों का उपयोग जोखिम के खिलाफ बचाव करने के लिए कर सकते हैं, या संभावित रूप से वित्तीय लाभ प्राप्त करने के लिए जोखिम उठा सकते हैं।

अगर आप इन types of financial market in Hindi डेरिवेटिव उपकरणों के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं, तो हम आपको निम्नलिखित लेख पढ़ने की सलाह देंगे:

ऑप्शन ट्रेडिंग इन हिंदी - एक विस्तृत गाइड

Future contract में ट्रेडिंग - एक सविस्तार गाइड

एक विस्तृत CFD trading गाइड

#4. कमोडिटी बाजार - Types Of Financial Market

कमोडिटी बाजार वो financial market in Hindi है जहाँ सख़्त वस्तुएं जैसे सोना, तेल, पैलाडियम और नरम वस्तुएं जैसे कृषि और पशुधन उत्पाद शामिल हैं। निवेशक और व्यापारी स्टॉक, या सीधे एक फुचुरस, ऑप्शंस या सीएफडी खरीदकर एक वस्तु में अप्रत्यक्ष रूप से हिस्सा ले सकते हैं।

#5. पूंजी बाजार - International Financial Markets

What is the financial market? पूंजी बाजारों में स्टॉक और बॉन्ड बाजार (निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के दोनों बांड) शामिल हैं। एक प्राथमिक बाजार है, जहां कंपनियां और सरकारें नई प्रतिभूतियां जारी करती हैं, और एक द्वितीयक बाजार, जहां पहले जारी किए गए स्टॉक और बॉन्ड का कारोबार होता है।

#6. बीमा और बंधक बाजार - Financial Market Types

बंधक वित्तीय बाजार की विशेषताएं दीर्घकालिक ऋण के आसपास घूमते हैं जो संपत्ति खरीदने के लिए प्रदान किए जाते हैं। इन ऋणों को द्वितीयक बंधक बाजारों पर कारोबार किया जा सकता है। बीमा बाजारों में बीमाकर्ता और बीमाधारक शामिल हैं। बीमा कंपनियों के पास पर्याप्त नकदी भंडार है जो वे स्टॉक, बॉन्ड और डेरिवेटिव बाजार में निवेश करते हैं।

#7. मुद्रा बाजार - International Financial Market

मुद्रा वित्तीय बाजार क्या है? यह बाजार बहुत कम अवधि के ऋण पर केंद्रित होते हैं, और इसमें स्थानीय बैंक और केंद्रीय बैंक शामिल होते हैं। अल्पकालिक चलनिधि प्रयोजनों के लिए बैंक एक दूसरे को ऋण देते हैं। हर देश के केंद्रीय बैंक (जैसे के भारतीय रिज़र्व बैंक) अक्सर अंतिम उपाय के ऋणदाता के रूप में कार्य करता है।

#8. डिजिटल मुद्रा बाजार - What Is The Financial Market

हालांकि यह एक नया बाजार है, बिटकॉइन, ऑल्टकॉइन और अन्य ने 2017 के अंत में सुर्खियों में कब्जा कर लिया जब मजबूत मूल्य अस्थिरता के कारण कीमतों में उछाल आया। ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी और खनन प्रणाली ने डिजिटल मुद्रा बाजार में एक बढ़ती रुचि का कारण बना।

ट्रेडिंग शुरू करें

▶ World Financial Markets में ट्रेडिंग कैसे शुरू करें

जबकि सभी प्रकार के types of financial market in Hindi अटकलें लगाने के लिए उपलब्ध नहीं हैं, एक एडमिरल मार्केटस खाते वाले व्यापारी विदेशी मुद्रा बाजार, शेयर, कमोडिटी, डिजिटल मुद्रा, सूचकांक और 4,000 से भी अधिक vittiya bajar में व्यापार कर सकते हैं।
तो आइये देखें की एडमिरल मार्केट्स के साथ खता (लाइव या डेमो) खोलना और अपना मुफ्त मेटा ट्रेडर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डाउनलोड कैसे करें।

वित्तीय बाजारों का व्यापार शुरू करने के लिए, इन तीन सरल चरणों का पालन करें:

1. एक एडमिरल मार्केट्स ट्रेडिंग खाता खोलें

2. अपना मुफ्त ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डाउनलोड करें।

3. एक ट्रेडिंग टिकट खोलें और अपना पहला व्यापार रखें!

1. एडमिरल मार्केट्स ट्रेडिंग खाता कैसे खोलें

एडमिरल मार्केट्स के साथ ट्रेडिंग खाता खोलने के लिए इन सरल चरणों का पालन कर सकते हैं। यदि आपके पास पहले से ही एक है, तो अपने मुफ़्त ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डाउनलोड करने के लिए सीधा अगला अनुभाग पड़ें।

i) लाइव या डेमो ट्रेडिंग खाता खोलने के लिए बस एडमिरल मार्केट्स होमपेज पर जाएं और ऊपर दाई और हरे रंग के 'ट्रेडिंग आरम्भ करें' बटन पर क्लिक करें।

ii) लाइव या डेमो ट्रेडिंग खाते के लिए साइन अप करने के लिए बस आवश्यक विवरण भरें जैसे कि आपका नाम, ईमेल और पासवर्ड।

iii) यह करने के बाद आपको ट्रेडर रूम तक तुरंत पहुँच प्राप्त होगी! यहां से, आप लाइव या डेमो खाता खोल सकते हैं:

'लाइव खाता खोलें' नामक नीले बटन पर क्लिक करने के बाद, आप वह खाता चुन सकते हैं जिसे आप खोलना चाहते हैं। Trade.MT5 खाता सबसे लोकप्रिय प्रकार के व्यापारिक खातों में से एक है क्योंकि यह आपको मेटा ट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को डाउनलोड करने और कई परिसंपत्ति वर्गों पर व्यापार करने की अनुमति देता है।

इसके बाद आप एक आवेदन भर सकते हैं और आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं। उसके बाद एक सत्यापन प्रक्रिया किया जायगा। एक बार यह पूरा हो जाने के बाद आपका आवेदन स्वीकृत हो जायगा और आपका लाइव खाता सक्रिय हो जायगा। इसके बाद आप अपना मेटा ट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डाउनलोड करने के लिए तैयार हैं।

2. मेटाट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को कैसे डाउनलोड करें ताकि आपको International financial market तक पहुंच प्राप्त हो

ट्रेडर रूम में लॉगिन करने के बाद, दाई और ट्रेडिंग प्लेटफार्म पर क्लिक करें। अब आपको मेटाट्रेडर4 और मेटाट्रेडर 5 के लिए निम्नलिखित विकल्प दिखाई देंगे:

➡️ मेटाट्रेडर 4 PC

➡️ मेटाट्रेडर 5 PC

आप अपने ज़रुरत के अनुसार इन विकल्पों में क्लिक कर मेटाट्रेडर डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद मुफ्त डाउनलोड को पूरा करने के लिए बस अपने कंप्यूटर के संकेतों का पालन करें।

3. मेटा ट्रेडर 5 से financial markets में ट्रेडिंग कैसे करें

एक ट्रेड लगाने के लिए इन चरणों का पालन करें:

1️⃣ प्लेटफ़ॉर्म के शीर्ष पर स्थित मेनू से या अपने कीबोर्ड पर Ctrl + M दबाकर 'व्यू' का चयन कर 'मार्केट वॉच' विंडो खोलें। यह आपके चार्ट के बाईं ओर ट्रेडे करने लायक प्रतीकों की एक सूची खोलेगा।

2️⃣ मार्केट वॉच विंडो पर राइट-क्लिक करें और सिंबल चुनें या अपने कीबोर्ड पर Ctrl + U दबाएं।

3️⃣ इसके बाद नीचे दिखाई गई विंडो खुल जाएगी जिसमें आपके द्वारा व्यापार करने के लिए उपलब्ध सभी बाजारों का विवरण होगा। यहां से शो सिंबल पर क्लिक कर आप अपने मार्केट वॉच विंडो में कई तरह के बाजारों को जोड़ सकते हैं।

मेटाट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का एक उदाहरण जो एडमिरल मार्केट्स द्वारा सिंबल विंडो दिखा रहा है।

अस्वीकरण: इस लेख में वित्तीय साधनों के लिए चार्ट, उदाहरण के उद्देश्यों के लिए हैं और एडमिरल मार्केट्स (सीएफडी, ईटीएफ, शेयर) द्वारा प्रदान किए गए किसी भी वित्तीय उपकरण को खरीदने या बेचने के लिए व्यापारिक सलाह या आग्रह नहीं करते हैं। पिछला प्रदर्शन भविष्य के प्रदर्शन का संकेत नहीं है।

सिंबल विंडो में ओके बटन पर क्लिक करने के बाद अब आप मार्केट वॉच विंडो में विभिन्न उपकरणों को देख सकते हैं। किसी विशेष बाजार के मूल्य चार्ट को देखने के लिए, बस मार्केट वॉच विंडो में उस पर बायाँ-क्लिक करें और चार्ट क्षेत्र पर खींचें। यहाँ से अब आप एक ट्रेडिंग टिकट खोल सकते हैं:

1️⃣ चार्ट पर राइट-क्लिक करें।

2️⃣ ट्रेडिंग का चयन करें।

3️⃣ न्यू ऑर्डर चुनें, या अपने कीबोर्ड पर F9 दबाएं।

4️⃣ अब प्रवेश मूल्य, स्टॉप लॉस, टेक प्रॉफिट और आपके शेयर ट्रेडिंग आकार (वॉल्यूम) को इनपुट करने के लिए एक ट्रेडिंग टिकट खुलेगा।

एडमिरल मार्केट द्वारा प्रदान किए गए मेटा ट्रेडर 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का एक उदाहरण एक ट्रेडिंग टिकट दिखा रहा है।

अस्वीकरण: इस लेख में वित्तीय साधनों के लिए चार्ट, उदाहरण के उद्देश्यों के लिए हैं और एडमिरल मार्केट्स (सीएफडी, ईटीएफ, शेयर) द्वारा प्रदान किए गए किसी भी वित्तीय उपकरण को खरीदने या बेचने के लिए व्यापारिक सलाह या आग्रह नहीं करते हैं। पिछला प्रदर्शन भविष्य के प्रदर्शन का संकेत नहीं है।

मेटा ट्रेडर 4 और 5 ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म से types of financial market में ट्रेड कैसे करें इसका एक व्यावहारिक व्याख्या देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को देखें:

▶ International Financial Market में ट्रेडिंग के लिए आवश्यक चीज़ें

World financial markets में व्यापारिक मौकों का सही इस्तेमाल करने के लिए दो चीज़ें सबसे महत्वपूर्ण हैं:

☝️ सही प्लेटफार्म तक पहुंच
☝️ सही उपकरण का इस्तेमाल

आइये इन दोनों का वित्तीय बाजार का अर्थ में महत्व देखते हैं:

☑️ ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म - Financial Markets In Hindi

चाहे आप एक अल्पकालिक व्यापारी हों या दीर्घकालिक, जिन बाजारों में आप व्यापार करना चाहते हैं, उनमें ऐतिहासिक खरीद और बिक्री गतिविधि को देखने की क्षमता होना आवश्यक है। इसके लिए आपके पास विभिन्न चार्ट, संकेतक और टूल तक पहुंच हों ज़रुरी है।

मेटाट्रेडर के विभिन्न संस्करणों में आपके यह सब मिलेंगे। एडमिरल मार्केट्स में आपको निम्नलिखित संस्करणों तक मुफ्त पहुंच प्राप्त होता है:

☑️ वित्तीय बाजार में ट्रेडिंग के लिए ट्रेडिंग उपकरण

हिंदी में वित्तीय बाजार परिभाषा की इस लेख में अब हम ट्रेडिंग उपकरण के बारे में बात करेंगे ।

चाहे आप विदेशी मुद्रा बाजार में ट्रेडिंग कर रहे हों या शेयर बाजार, सही उपकरणों तक पहुंचना महत्वपूर्ण है ता की आप बाजार में अवसरों का लाभ उठा सकें। सीएफडी (कॉन्ट्रैक्ट्स फॉर डिफरेंस) के माध्यम से व्यापार व्यापारियों को एक अंतर्निहित बाजार की वृद्धि के बिना - एक बाजार के उत्थान और पतन पर अटकल लगाने की अनुमति देता है।

सीएफडी के माध्यम से व्यापार करने कुछ लाभ हैं:

किसी भी दिशा में व्यापार करने की क्षमता - आप किसी भी स्टॉक पर लॉन्ग या शार्ट जा सकते हैं। एडमिरल मार्केट्स के साथ शार्ट सेल पर कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं है।

उत्तोलन उपयोग करने की क्षमता - सीएफडी के साथ व्यापार करते समय आप उत्तोलन का इस्तेमाल कर अपनी जमा राशि से कई गुणा अधिक ट्रैड कर सकते हैं। एडमिरल मार्केट्स के साथ एक खुदरा ग्राहक अपनी शेष राशि से पांच गुना अधिक और एक पेशेवर-ग्राहक बीस गुना अधिक व्यापार कर सकते हैं।

उन्नत जोखिम प्रबंधन उपकरण का इस्तेमाल - सीएफडी ट्रेडिंग करते समय अपने जोखिम प्रबंधन करें। एडमिरल मार्केट्स के साथ आप कई जोखिम प्रबंधन टूल का उपयोग कर सकते हैं जैसे के स्टॉप लॉस और टेक प्रॉफिट।

▶ Different Types Of Trading Markets में ट्रेडिंग के लिए कुछ उपयोगी रणनीतियाँ

मेटाट्रेडर प्लेटफॉर्म ट्रेडिंग संकेतकों की एक विशाल भंडार प्रदान करता है, जिनके उपयोग से आप अपने ट्रेडिंग को उच्च स्तर पर ले जा सकते हैं।

आइये एक ट्रेडिंग रणनीति में विभिन्न संकेतकों के संयोजन का उपयोग करने का तरीका देखें। चाहे आप बाजार समाचार के आधार पर ट्रेडिंग कर रहे हों या उपकरण के आधार पर, ऐसी एक योजना बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है।

ट्रेडिंग मूविंग एवरेज एंड प्राइस एक्शन

एक व्यापार को निष्पादन करने से पहले व्यापारियों को दो चीजों की ध्यान रखने की आवश्यकता होती है:

1️⃣ बाजार की भविष्य की दिशा का एक संकेत - जो 'प्रवृत्ति' के नाम से भी जाना जाता है

2️⃣ व्यापार के लिए एक संकेत जो प्रविष्टि, स्टॉप लॉस और लक्ष्य स्तर प्रदान करता है

बाजार की प्रवृत्ति को पहचानने में मदद करने के लिए चलती औसत एक उपयोगी संकेतक है क्योंकि वे समय की निर्धारित अवधि में बाजार की औसत कीमत दिखाते हैं। दैनिक चार्ट समय सीमा पर, आमतौर पर उपयोग की जाने वाली औसत समय अवधि 10, 20, 50, 100 और 200-अवधि की चलती औसत हैं।

Source: Admiral Markets MetaTrader 5 Supreme Edition - DJI30, Daily Chart - Data range: 12 August 2016 to 29 August 2019, accessed on 29 August 2019 at 10:30 am GMT. कृपया ध्यान दें: पिछला प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

डॉव जोन्स 30 स्टॉक सूचकांक सीएफडी के उपरोक्त चार्ट में दस-अवधि की चलती औसत (नीली रेखा में) दिखाया गया है। जब बाजार में रुझान बढ़ता है, तो कीमत अक्सर कुछ समय के लिए चलती औसत से ऊपर रहती है। जब बाजार का रुझान कम होता है, तो मूल्य अक्सर कुछ समय के लिए चलती औसत से नीचे रहता है। हम इसके चारों ओर एक व्यापारिक नियम बना सकते हैं:

➡️ यदि मूल्य चलती औसत से ऊपर है = लॉन्ग ट्रेड्

➡️ यदि मूल्य चलती औसत से कम है = शॉर्ट ट्रेड

अब हमारे पास एक संभावित प्रवृत्ति है। तो एक व्यापारी अपने प्रवेश का समय कैसे निर्णय कर सकता है? उहे मूल्य क्रिया या कैंडलस्टिक पैटर्न खोजने के लिए मूल्य पट्टियों का अधिक विस्तार से विश्लेषण करना होगा।

कैंडलस्टिक पैटर्न के सबसे लोकप्रिय प्रकारों में से एक पिन बार रिवर्सल है।

बुलिश पिन बार पैटर्न में, विक्रेता बाजार को एक नए निम्न स्तर पर ले जाते हैं, लेकिन खरीदार इसे अस्वीकार कर देते हैं और बार को ऊपरी आधे हिस्से में बंद कर बाजार को पीछे धकेल देते हैं। मंदी की पिन बार पैटर्न में, खरीदार बाजार को एक नई ऊंचाई पर धकेल देते हैं लेकिन विक्रेता इसे अस्वीकार कर देते हैं और बार के निचले आधे हिस्से में बंद कर बाजार को पीछे धकेल देते हैं। आइए इनको पिछले नियमों में जोड़ें:

➡️ यदि मूल्य चलती औसत और बुलिश पिन बार पैटर्न के ऊपर है = लॉन्ग ट्रेड
➡️ यदि मूल्य चलती औसत और बेयरिश पिन बार पैटर्न के नीचे है = शार्ट ट्रेड

DJI 30 चार्ट पर वापस जाने से क्या हम इनमें से किसी भी पैटर्न को ट्रेंड के अनुरूप पहचान सकते हैं?

Source: Admiral Markets MetaTrader 5 Supreme Edition - DJI30, Daily Chart - Data range: 22 July 2019 to 29 August 2019, accessed on 29 August 2019 at 10:55 am GMT. कृपया ध्यान दें: पिछला प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

उपरोक्त चार्ट में पीले बॉक्स पहले परिभाषित किए गए कई नियमों को दर्शाते हैं: जब मूल्य दस अवधि से ऊपर चल रहा है तो बुलिश पिन बार पैटर्न और जब मूल्य चलती औसत दस अवधि से कम हो तोबेयरिश पिन बार पैटर्न।

▶ निष्कर्ष - What Is Financial Market

अब आप financial market definition, importance of financial markets जानने के साथ साथ financial market types और international financial market instruments को बेहतर समझने लगे हैं। तो क्या अब आप 2021 में ट्रेडिंग शुरू करने के लिए तैयार हैं?

तो देर न करें। अपना लाइव खाता खोलने के लिए नीचे बैनर पर क्लिक करें!

 

अगर आप ट्रेडिंग के बारे में और विस्तार से जानना चाहते हैं, तो यह लेख पड़ें:

Intraday Trading - एक सम्पूर्ण गाइड

सर्वश्रेष्ठ forex trading strategies जो काम करती हैं

सफल व्यापारीयों से ट्रेडिंग टिप्स

 

एडमिरल मार्केट्स एक विश्व स्तर पर विनियमित विदेशी मुद्रा और सीएफडी ब्रोकर जो बहु-पुरस्कार का विजेता है। बहुत सारे उपकारणों के इलावा एडमिरल मार्केट्स के वेबसाइट में कई सरे शिक्षा सम्बंधित लेखे है जहाँ से आपको फोरेक्स, शेयर मार्किट, निवेश और भी बहुत कुछ के बारे मे  तथ्य मिलेगा। दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से 500 से अधिक वित्तीय साधनों पर व्यापार की पेशकश करते हैं: मेटा ट्रेडर 4 और मेटा ट्रेडर 5 ।आज ही ट्रेडिंग शुरू करें!

 

विश्लेषणात्मक सामग्री के बारे में जानकारी:

दिया गया तथ्य एग्लोब इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड की वेबसाइट पर प्रकाशित सभी विश्लेषण, अनुमान, पूर्वानुमान, बाजार समीक्षा, साप्ताहिक दृष्टिकोण या अन्य समान आकलन या जानकारी (इसके बाद "विश्लेषण") के बारे में अतिरिक्त जानकारी प्रदान करता है। कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले कृपया गौर से निम्नलिखित पर ध्यान दें:

  1. यह एक विपणन संचार है। सामग्री केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए प्रकाशित की जाती है और इसे किसी भी तरह से निवेश सलाह या सिफारिश के रूप में नहीं माना जाता है। इसे निवेश अनुसंधान की स्वतंत्रता को बढ़ावा देने के लिए डिज़ाइन की गई कानूनी आवश्यकताओं के अनुसार तैयार नहीं किया गया है, और यह निवेश अनुसंधान के प्रसार से पहले किसी भी निषेध के अधीन नहीं है।
  2. कोई भी निवेश निर्णय अकेले प्रत्येक ग्राहक द्वारा किया जाता है जबकि एग्लोब इंवेस्टमेंट्स लिमिटेड ऐसे किसी भी निर्णय से होने वाले किसी भी नुकसान या क्षति के लिए जिम्मेदार नहीं होगा, चाहे वह सामग्री पर आधारित हो या नहीं।
  3. हमारे ग्राहकों के हितों और विश्लेषण की निष्पक्षता की रक्षा के लिए, एग्लोब इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड ने हितों के टकराव की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रासंगिक आंतरिक प्रक्रियाएं स्थापित की हैं।
  4. विश्लेषण एक स्वतंत्र विश्लेषक द्वारा उनके व्यक्तिगत अनुमानों के आधार पर तैयार किया जाता है।
  5. जबकि यह सुनिश्चित करने के लिए हर उचित प्रयास किया जाता है कि सामग्री के सभी स्रोत विश्वसनीय हैं और सभी जानकारी यथासंभव, समझने योग्य, समय पर, सटीक और पूर्ण तरीके से प्रस्तुत की जाती है, एग्लोब इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड सटीकता या विश्लेषण में निहित किसी भी जानकारी की पूर्णता की गारंटी नहीं देता है।
  6. सामग्री के भीतर इंगित वित्तीय साधनों के किसी भी प्रकार के पिछला प्रदर्शन या मॉडल को भविष्य के किसी भी प्रदर्शन के लिए एग्लोब इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड द्वारा व्यक्त या निहित वादे, गारंटी या निहितार्थ के रूप में नहीं माना जाना चाहिए। वित्तीय साधन के मूल्य में वृद्धि और कमी दोनों हो सकती है और परिसंपत्ति मूल्य के संरक्षण की गारंटी नहीं है।
  7. लीवरेज्ड उत्पाद (कॉन्ट्रैक्ट्स फॉर डिफरेंस सहित) प्रकृति में सट्टा हैं और इसके परिणामस्वरूप नुकसान या लाभ हो सकता है। ट्रेडिंग शुरू करने से पहले, कृपया सुनिश्चित करें कि आप इसमें शामिल जोखिमों को पूरी तरह से समझते हैं।
TOP ARTICLES
Market Crash Meaning In Hindi - सम्पूर्ण गाइड
Market crash meaning in Hindi क्या है? एक शेयर बाजार दुर्घटना बाजारों में कीमतों में अचानक गिरावट है, एक या एक से अधिक प्रकार की संपत्ति में, उदाहरण के लिए, स्टॉक, बांड, ऊर्जा, धातु, कृषि उत्पाद, मुद्राएं, आदि। आमतौर पर यह अचानक गिरावट किसी ऐसी घटना का परिणाम होती है, जो निवेशकों में...
2022 में अपने लिए एक Passive Income स्रोत बनाएं
कुछ अतिरिक्त पैसा और आय का अतिरिक्त स्रोत बनाना कौन नहीं चाहता, है ना? जीवन शैली का परिवर्तन के साथ साथ हमारे सपने बदलते रहते हैं और जिम्मेदारियां भी। कोई एक नया घर खरीदना चाहते हैं, तो कोई अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करना चाहते हैं या कोई दुनिया का सैर करना चाहते हैं।जबकि हम सभी के पास दूसरी...
Leverage Meaning In Hindi - 15 मिनट का संक्षिप्त गाइड
जब फोरेक्स और सीएफडी ट्रेडिंग की बात आती है, तो नए व्यापारियों को समझने के लिए सबसे महत्वपूर्ण अवधारणाओं में से एक लीवरेज है। यदि आप एक नौसिखिया व्यापारी हैं और इस प्रश्न का उत्तर खोज रहे हैं कि 'लिवरेज का क्या अर्थ है?' - तो आप सही जगह पर आये हैं।इस लेख में, हम बारीकी से जांच करेंगे कि leverage mea...
सभी देखें