Hedge Funds In India | Hedge Fund Strategies - सम्पूर्ण गाइड

Jitanchandra Solanki

अपनी आमदनी का एक हिस्सा किसी जगह निवेश करने में इच्छुक किसी भी हाइ नेट वर्थ वाले यानी अच्छी खासी आमदनी वाले व्यक्ति के लिए hedge funds in India एक तर्कसंगत रास्ता है।

अगर सावधानी से प्रबंधन किया जाए तो ये निवेश ऊंचा मुनाफा दे सकते हैं और इसके लिए हेज फंड मैनेजर अनेक hedge fund trading strategies अपनाते हैं। 

इस लेख में हम आपको meaning of hedge funds बताएँगे और how to invest in hedge funds in India के लिए कई सरे hedge fund strategies पर नज़र डालेंगे। 

पढ़ने का आनंद लें!   

What's Hedge Fund?

Hedge fund शब्द इस तथ्य से बना है कि हेज फंड प्रबंधक शार्ट और लॉन्ग ट्रेडिंग नीति अपनाकर मार्केट में अपनी स्थिति और कोष को बचाव (हेज) कर सकते हैं, जिसके उपयोग से सैद्धांतिक तौर पर मार्केट में कैसी भी स्थिति मेँ मुनाफा कमाया जा सकता है।

हेज फंड का विवरण सुनने में म्यूच्यूअल फण्ड की तरह लग सकता है, और यह सच है कि इन दोनों में कई समानताएं हैं। दोनों का ही उद्देश्य जोखिमों को कम करते हुए निवेशकों के लिए लाभ उत्पन्न करना है, लेकिन इन दोनों की प्रकृति में बहुत अंतर हैं।

हेज फंड की रणनीतियों को अधिक आक्रामक और ज़्यादा जोखिम भरा समझा जाता है। हेज फंड में निवेश करने के लिए समान्यतः ज्यादा धन की आवश्यकता होती है । 

एक लाइव खाता खोलें

लाइव बाज़ारों में ट्रेड करें और कॉपी ट्रेडर्स की सदस्यता लें कुशलता से निवेश करें

सबसे लोकप्रिय 9 Hedge Funds Strategies

अधिकांश निधि प्रबंधक (फंड मैनेजर्स) अच्छे लाभ कमाने के लिए बाजार की सामन्य स्थितियों को देखकर, अपनी सोच और योजना के हिसाब से नीचे दी गई सूचीबद्ध रणनीतियों के एक संयोजन का इस्तेमाल करते हैं।

➀ मार्केट न्यूट्रल (बाजार तटस्थ) Hedge Fund Strategies - Hedge Funds India

जो फंड मैनेजर investing in hedge funds के लिए मार्केट न्यूट्रल रणनीति का इस्तेमाल करते हैं, वे कई तरह से लॉन्ग/शार्ट इक्विटी फंड की तरह होते हैं, जो अपनी सफलता के लिए बाजार के समग्र प्रदर्शन पर निर्भर नहीं होते। इसके नाम में "न्यूट्रल (निष्क्रिय)" शब्द इसलिए है क्योंकि इस रणनीति में लॉन्ग और शार्ट निवेशों का समान रूप से संतुलन बनाकर एक अस्थिर बाजार के प्रभावों को न्यूट्रल (निष्क्रिय) करने का लक्ष्य रखा जाता है। इस रणनीति के तहत्, अच्छा प्रदर्शन करने और बेहतर रिटर्न पाने के लिए कुछ परिस्थितियों में लीवरेज का प्रयोग भी किया जाता है।

➁ लॉन्ग-ओनली इक्विटी - Types Of Hedging Techniques

यह रणनीति म्यूच्यूअल फंड में निवेश की पारंपरिक रणनीति का सबसे करीबी रूप है। इस रणनीति का उपयोग करने वाले प्रबंधक आम तौर पर दीर्घकालिक नीति अपनाते हैं, जो कि दूसरों की तुलना में कम जोखिम वाली होती है।

निवेश की अन्य रणनीतियों की तुलना में इससे कम वापसी मिलता है। यह सच्च है की इस विशेष क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा बहुत ज्यादा है। इसी लिए इस नीति को hedge fund trading मे अपनाने वाले हेज फंड मैनेजर्स को अपने द्वारा ली गई फीस का औचित्य साबित करने के लिए और कड़ी मेहनत से काम कर शानदार परिणाम देने पड़ते हैं।  

शॉर्ट-ओनली इक्विटी - Hedge Funds Strategies

वहीं दूसरी ओर, शॉर्ट-ओनली इक्विटी नीति का उद्देश्य शार्ट सेलिंग स्टॉक से लाभ प्राप्त करना है, जिनकी कीमत भविष्य में गिरने की संभावना होती है। इसमें असली कौशल उन कंपनियों की पहचान करने में है, जो संकट के संकेत दिखा रहीं हों किंतु दूसरे निवेशकों की नजरों से छूट गई हों या अनदेखी रह गई हों तथा यह उन कंपनियों के स्टॉक्स के प्रदर्शन में कुल गिरावट दर्ज होने पर भी निर्भर करता है।

यह एक ऐसी रणनीति है जिसमें सब योजना के अनुसार जाने पर बहुत मुनाफ़ा हो सकता है, लेकिन इस रणनीति में काफी जोखिम है और ये रणनीति कमज़ोर दिलों वाले फंड प्रबंधकों के लिए नहीं है।

शॉर्ट-ओनली hedge funds 'घटना संचालित' भी हैं। उदाहरण के लिए, 2020 में कोरोनोवायरस महामारी के असर ने बहुत से उद्योगों पर कहर बरसाया है। उड्डयन उद्योग इससे बुरी तरह प्रभावित हुआ।

नीचे डॉयचे लुफ्थांसा का एक दीर्घकालिक साप्ताहिक चार्ट है:

Source: Admiral Markets MetaTrader 5, #LHA, Weekly - Data range: from 2 June 2013 to 2 June 2020, accessed on 2 June 2020 at 1:40 pm BST. कृपया ध्यान दें: बीते हुए समय का प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

एयरलाइन की शेयर की कीमत न केवल कोरोनोवायरस के नेतृत्व वाले बाजार में बिकवाली दिखाती है, बल्कि वर्ष 2020 में coronavirus के पूरी दुनिया के मार्केट्स को अपनी जकड़ में लेने के काफी पहले से ही कंपनी संघर्ष कर रही थी। एयरलाइन के शेयर की कीमत असल में 2018 की शुरुआत से ही गिर रही थी क्योंकि कम लागत वाली विमान कंपनियों ने मार्केट को संतृप्त कर दिया था। इस तरह की घटनाओं के हिसाब से बदलने वाली परिस्थितियों को भांपने और उनसे बचाव करने के लिए ही हेज फंडस हैं।

➃ लॉन्ग/शॉर्ट इक्विटी - Hedge Fund In India

यह रणनीति यकीनन सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली रणनीति है, और वर्ष 1949 में जोन्स ने इसी रणनीति की शुरुआत की थी। इसका सिद्धान्त बेहद सरल है: उतार-चढ़ाव वाले दोनों निवेशों पर जीतने का मौका। यह सिद्धान्त भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करने योग्य कंपनियों या वस्तुओं पर लॉन्ग स्थिति रखने और अमूमन उसी क्षेत्र की अन्य कंपनियां जो भविष्य में उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकेंगी उन पर शॉर्ट स्थिति का रखने पर टिका है। यह तरीका पेयर्स ट्रेडिंग के जैसा ही है, और यह न केवल सफलता की संभावना को बढ़ाता है, बल्कि जोखिम को भी काफी हद तक कम कर देता है।

लॉन्ग/शार्ट इक्विटी पोर्टफोलियो भी संसर्ग से बचाव करने का एक शानदार तरीका है। यदि market में कोई बहुत बड़ी घटना होती है, जो वैश्विक स्टॉक्स में उताव - चराव होने का कारण बन जाती है, तो भी कम से कम एक निवेश में होने वाला फायदा दूसरे निवेश में होने वाले नुकसान की भरपाई कर देगा।

क्या आप जानते हैं कि Admiral Markets के साथ सीऍफ़डी का ट्रेड करने के लिए आप एक ट्रेडिंग खाता खोल सकते हैं और किसी भी पसंदीदा बाजार में लॉन्ग और शार्ट ट्रेडिंग कर सकते हैं?

इसका मतलब है कि आप उस कंपनी के स्टॉक खरीद सकते हैं, जो आपको लगता है कि अच्छा प्रदर्शन करेंगी, जबकि उस कंपनी के स्टॉक को शॉर्ट कर सकते हैं, जिनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद न हो। इस सबका उद्देश्य आपके निवेश को जोखिम से आड़ देना या हेज करना है। (इसी कारण hedge-fund शब्द बना!)

आप नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर उपरोक्त सभी सुविधाओं का आनंद लेना शुरू कर सकते हैं तथा और भी बहुत कुछ पा सकते हैं!

दुनिया के शीर्ष उपकरणों में निवेश करें

आपकी उंगलियों पर हजारों स्टॉक और ईटीएफ

➄ क्रेडिट स्ट्रक्चर आर्बिट्रेज - Hedge Fund India

"Credit structure arbitrage" मौजूदा अनेकों hedge fund trading रणनीतियों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस रणनीति के तहत फंड मैनेजर्स ऐसे मौकों की तलाश में रहते हैं जब एक ही कॉर्पोरेट जारीकर्ता द्वारा जारी विभिन्न प्रतिभूतियों के मूल्यों में अंतर से फायदा उठाया जा सके। फंड प्रबंधक ऐसी प्रतिभूतियों की भी तलाश करते हैं, जिनकी क्रेडिट गुणवत्ता समान होती है, जैसे कि वे जो की बंधक (मोरगेज) द्वारा समर्थित हैं, या संपार्श्विक ऋण दायित्वों के रूप में मौजूद हैं।

यह रणनीति तब सबसे अच्छा प्रदर्शन करती है, जब अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ रही हो और ॠण अपने चरम स्तर पर हो क्योंकि यह रणनीति ब्याज दरों की बजाय जमा धन पर केंद्रित है। आर्थिक गिरावट से बचाव करने के लिए "क्रेडिट स्ट्रक्चर आर्बिट्रेज" रणनीति का उपयोग करने वाले कई फंड मैनेजर्स इंटरेस्ट रेट फ्यूचर्स और ट्रेजरी बांड़स के लिए "शॉर्ट सेल" नीति का उपयोग करते हैं।

➅ कन्वरटिबल आर्बिट्रेज - Meaning Of Hedge Fund

कन्वरटिबल आर्बिट्रेज रणनीति में एक हेज फंड प्रबंधक किसी कंपनी के परिवर्तनीय ॠण के दोनों हिस्सों बॉन्ड और इक्विटी को शॉर्ट-सेलिंग की नीति पर चलते हुए खरीदता है। इसके पीछे यह सोच रहती है कि निवेश के ये दो पहलू एक दूसरे को बाजार के उतार-चढ़ाव के दौरान संतुलित करेंगे। यह प्रणाली बाजार के अस्थिर होने पर पनपती है क्योंकि ऐसे समय में ट्रेडिंग से लाभ कमाने के ज्यादा मौके मिलते है। लेकिन बाहरी घटनाएं जैसे कि टेकओवर की बोलियाँ जिनसे उन स्टॉक के मूल्य में अचानक हलचलें होती हैं जिन पर निवेश होना था, उस प्रणाली के असर को निष्क्रिय कर सकती है।

➆ फ़िक्स्ड इंकम आर्बिट्रेज हेज फण्ड रणनीति 

इस रणनीति तथा लॉन्ग और शॉर्ट इक्विटी फंड़स में काफी समानताएँ है क्योंकि यह एक निश्चित-आय प्रतिभूतियों की जोड़ी के बीच मूल्य के अंतर का फायदा उठाकर अपना कार्य करती है। इनमें म्यूनिसिपल और कॉर्पोरेट बॉन्डस के साथ-साथ डिफ़ॉल्ट स्वैप प्रतिभूतियाँ भी शामिल हो सकती हैं। इन्हें एक बाजार से खरीदकर दूसरे बाजार मे ज्यादा कीमत पर बेचकर मुनाफा कमाया जाता है। चूंकि ये बिक्री बहुत मामूली लाभ ही देती है, इसलिए अक्सर उच्च स्तर के उत्तोलन का प्रयोग किया जाता है। इससे ज्यादा मुनाफा कमाने की क्षमता तो बढ़ती है लेकिन इस प्रक्रिया का इस्तेमाल जोखिम भी काफी हद तक बढ़ा देता है।

दुनिया का प्रमुख बहु-परिसंपत्ति प्लेटफार्म


➇ रिस्क आर्बिट्रेज - Trading Strategies Hedge Funds

इसे मर्जर आर्बिट्रेज के नाम से भी जाना जाता है, एक ऐसा नाम जो इसकी प्रकृति का स्पष्ट परिचायक है। इस रणनीति में योजनाबद्ध अधिग्रहण या विलय में शामिल दो कंपनियों के स्टॉक्स की ट्रेडिंग की जाती है। यह रणनीति इसलिए कारगर है क्योंकि विलय की खबर आम तौर पर शेयर्स की कीमत बढ़ा देती है, लेकिन विलय के सौदे से जुड़ी अनिश्चितता के कारण ट्रेडिंग अक्सर ऑफर प्राइस से निचले स्तर की कीमतों पर होती है। कीमतों में इस अंतर की बदौलत मुनाफा कमाया जा सकता है लेकिन निवेश के ऐसे सुदृढ़ निर्णय लेने के लिए फंड मैनेजर्स को विनियामक अनुमोदन परिदृश्य में माहिर होना बहुत ज़रूरी है।

➈ ग्लोबल मैक्रो - Investing In Hedge Funds रणनीतियां

ग्लोबल मैक्रो रणनीति में स्थूल आर्थिक प्रवृत्ति और मौलिकों का अध्ययन किया जाता है, ताकि उनके दुनिया भर के सभी ब्याज और विनिमय दरों, वस्तुओं या इक्विटीस पर पड़ने वाले प्रभावों का अंदाजा लगाने की कोशिश की जा सके। निधि खुद से ही किसी भी चीज का व्यापार कर सकते हैं लेकिन डेरिवेटिव्स, फ्यूचर्स और मुद्राओं पर ही ध्यान केंद्रित रखा जाता है। इन्हे काफी ज्यादा लीवरेज्ड भी किया जा सकता है जिससे अधिकतम मुनाफा कमाया जा सके।

परंपरागत रूप से बहुत से हेज फंड्स विश्व स्तर के दांव खेलने के लिए मुद्रा और कोम्मोडिटी मार्केट की ओर ही देखते हैं। मुद्राओं के साथ तरीका काफी सरल है कि गिरते हुए मूल्य की मुद्रा की जगह बढ़ते मूल्य की मुद्रा खरीदें। आमतौर पर ऐसे बड़े फैसले किसी बड़ी घटना द्वारा प्रभावित होते हैं - जैसे कि केंद्रीय बैंकों द्वारा किसी प्रकार का हस्तक्षेप या किसी देश की अर्थव्यवस्था के राजनीतिक या व्ययसायिक ढांचे में किसी कारण काफी बड़ा बदलाव।

उदाहरण के लिए, नीचे अमेरिकी डॉलर बनाम ब्राज़ीलियन रियल का लंबी अवधि का साप्ताहिक चार्ट दिया गया है। ( USDBRL)

स्रोत: Admiral Markets MetaTrader 5, USDBRL, Weekly - Data range: from 30 October 2011 to 2 June 2020, accessed on 2 June 2020 at 3:40 pm BST. कृपया ध्यान दें: पिछला प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

उपरोक्त चार्ट में, ब्राज़ीलियाई रियल वर्ष 2011 से अमेरिकी डॉलर के मुकाबले लगातार गिर रहा है, हालांकि वर्ष 2015 से 2017 तक की अवधि में यह थोड़ा मजबूत हुआ। एक असफल राजनीतिक नेता और लड़खड़ाती अर्थव्यवस्था ने देश की मुद्रा पर काफी बुरा असर डाला। यह मुद्रा जोड़ी वर्ष 2011 से अपने साप्ताहिक 200- अवधि के घातीय चलती औसत पर बनी हुई है। हेज फंड्स ऐसे ही लंबी अवधि की स्थिर चाल चलने की तलाश में रहते हैं।

क्या आप जानते हैं कि Admiral Markets के वेबसाइट पर लेख और टुटोरिअल पृष्ठ पर आप मौलिक के साथ ही तकनीकी ट्रेडिंग के बारे में भी जान सकते हैं।

इसके इलावा हमारे नौसिखिये से विशेषज्ञ तक ऑनलाइन ट्रेडिंग पाठ्यक्रम के द्वारा आप चरण-दर-चरण ट्रेडिंग सीख सकते हैं। इस तस्वीर पर क्लिक कर आज ही इस पाठ्यक्रम में पंजीकरण करें। यह बिलकुल मुफ्त है।

नौसखिये से विशेषज्ञ तक

सिर्फ 20 दिनों में व्यापार करना सीखें, स्थापन से लेकर निष्पादन तक

Admiral Makrets के साथ How To Invest In Hedge Funds In India

जैसा कि हमने देखा है कि हेज फंड प्रबंधकों द्वारा अनेक रणनीतियों का उपयोग निवेशकों के लिए वित्तीय लाभ जुटाने में किया जाता है। किसी विशेष हेज फंड शैली के लिए प्रतिबद्ध होने से पहले उस विशेष रणनीति के फायदे और जोखिमों को जानना और अपने पास उपलब्ध संसाधनों कि सावधानीपूर्वक जांच करना बहुत ज़रूरी है।

क्या आप आज ही ट्रेडिंग शुरू करने में उत्सुक हैं? तो एक डेमो ट्रेडिंग खाता के साथ शुरूवात करने पर विचार करें, जहाँ आप एक आभासी ट्रेडिंग वातावरण में ट्रेडिंग कर सकेंगे। इसके साथ साथ आप एडमिरल मार्केट्स की तरफ से दी जाने वाली अतिरिक्त सुविधाओं को भी इस्तेमाल कर सकेंगे, जिनमे से कुछ है:

✔️ सेशेल्स के फाइनेंसियल सर्विसेज अथॉरिटी द्वारा विनियमित और भरोसेमंद कंपनी के साथ ट्रेडिंग

✔️ आपको मार्केट के प्रतिकूल प्रभावों से बचाने के लिए नकारात्मक खाता शेष संरक्षण नीति

✔️ दुनिया का सबसे लोकप्रिय ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म मेटा ट्रेडर का पीसी, मैक, वेब, एंड्रॉइड और आईओएस पर मुफ्त में प्रयोग की सुविधा

✔️ दुनिया का15 सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज पर शेयर और इटीऍफ़ में निवेश करने के लिए Trade.MT5 अकाउंट

✔️ लॉन्ग और शार्ट नीति के इस्तेमाल से बढ़ते और गिरते बाज़ारों में संभावित मुनाफा कमाने के लिए सीऍफ़डी के माध्यम से ट्रेड करने हेतु Trade.MT4 या Trade.MT5 अकाउंट

अगर आप एक डेमो खाता खोलने के लिए उत्सुक हैं, तो देर न करें! नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके आज ही एक डेमो खाता खोलें।

जोखिम मुक्त डेमो खाता

मुफ़्त ऑनलाइन डेमो खाता के लिए पंजीकरण करें और अपनी ट्रेडिंग रणनीति में महारत हासिल करें

ट्रेडिंग के सम्बन्ध में और भी अधिक जानना चाहते हैं? हम आपको यह तीन लेख पड़ने का सलाह देंगे:

20 सर्वश्रेष्ठ Forex Trading Tips

सबसे उपयोगी शेयर बाजार Trading Indicators

2020 में व्यापार करने के लिए शीर्ष financial markets

 

Admiral Markets एक विश्व स्तर पर विनियमित विदेशी मुद्रा और सीएफडी ब्रोकर जो बहु-पुरस्कार का विजेता है। बहुत सारे उपकारणों के इलावा एडमिरल मार्केट्स के वेबसाइट में कई सरे शिक्षा सम्बंधित लेखे है जहाँ से आपको फोरेक्स, शेयर मार्किट, निवेश और भी बहुत कुछ के बारे मे  तथ्य मिलेगा। दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से 500 से अधिक वित्तीय साधनों पर व्यापार की पेशकश करते हैं: मेटा ट्रेडर 4 और मेटा ट्रेडर 5 ।आज ही ट्रेडिंग शुरू करें!

 

इस लेख में दिया गया तथ्य को वित्तीय साधनों में किसी भी लेनदेन के लिए निवेश सलाह, निवेश अनुशंसाएं, प्रस्ताव या अनुशंसा के रूप में समझा नहीं जाना चाहिए। कृपया ध्यान दें कि इस तरह का ट्रेडिंग विश्लेषण किसी भी वर्तमान या भविष्य के प्रदर्शन के लिए एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है, क्योंकि समय के साथ परिस्थितियां बदल सकती हैं। कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले, आपको इस विषय से सम्बंधित जोखिमों को समझने के लिए स्वतंत्र वित्तीय सलाहकारों से सलाह लेनी चाहिए।

TOP ARTICLES
शेयर बाजार सूचकांक: ट्रेडिंग और निवेश के लिए एक संपूर्ण गाइड
आपने विभिन्न समाचार कार्यक्रमों में डॉव जोन्स, S&P 500, नैस्डैक, DAX 30, आदि जैसे नाम तो देखे ही होंगे। लेकिन बहुतों को पता नहीं है कि इन नामों के पीछे क्या है और वे विश्व स्टॉक सूचकांकों कीमतों में बदलाव से कैसे लाभ उठा सकते हैं।क्या आप इस विषय के बारे में अधिक जानने के लिए इच्छुक हैं? तब आप सह...
Investing In Copper | Copper Trading - एक सम्पूर्ण गाइड
जब लोग धातुओं के व्यापार या निवेश के बारे में सोचते हैं, तो निस्संदेह उनका मन लाल धातु - तांबे पर विचार करने से पहले सबसे पहले सोने और चांदी की ओर जाएगा।जबकि तांबा चमकदार कीमती धातुओं के समान स्थिति साझा नहीं करता है, यह हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और दुनिया में तीसरी सबसे अधिक खपत...
एसएंडपी 500 इंडेक्स - १५ मिनट का एक छोटा गाइड
S&P 500  एक स्टॉक इंडेक्स है, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका की 500 सबसे बड़ी कंपनियों का कारोबार होता है। इसका प्रबंधन स्टैंडर्ड एंड पूअर्स की वित्तीय रेटिंग एजेंसी द्वारा किया जाता है। अगर आप How to invest in S&P 500 from India जानना चाहते हैं, तो इस लेख ध्यान से पड़ें।   विषय...
सभी देखें