How To Invest In US Stocks From India

एडमिरल मार्केट्स
12 मिनट मे पढ़ेंं

क्या आप जानते हैं कि दुनिया का दो सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज संयुक्त राज्य में हैं? न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज (NYSE) और नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज दुनिया का सबसे अधिक मान्यता प्राप्त कंपनियों जैसे ऐप्पल, फेसबुक, माइक्रोसॉफ्ट और गूगल का घर है।

अमरीकी शेयर बाजार में निवेश अब बहुत आसान है, और इसी लिए बहुत लोग how to invest in US stock market from India के बारे में जानने के लिए उत्सुक हैं।

इस लेख में, हम आपको बताएंगे how to invest in US stocks from India. साथ साथ आपको यह भी बताएँगे अमेरिकी शेयरों की कीमत किस्से प्रभावित होते हैं और आप अमेरिका शेयर मार्केट द्वारा पेश किए गए व्यापारिक अवसरों का लाभ कैसे उठा सकते हैं!

पढ़ते रहें!

अमरीका का स्टॉक एक्सचेंज कौनसे हैं? - How To Invest In US Stocks From India

अमेरिकी शेयर बाजार को दुनिया के दो सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज, न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज और नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज द्वारा प्रबंधित किया जाता है। इन एक्सचेंजों से अमेज़ॅन, एप्पल, गूगल जैसी सार्वजनिक रूप से कारोबार करनेवाली कंपनियों के शेयरों को खरीदना और बेचना आसान हो जाता है।

खरीद और बिक्री की मात्रा के आधार पर अमेरिकी ईक्विटी बाजार का कुल मूल्य में दैनिक उतार-चढ़ाव होता है। इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज के अनुसार, जिसने 2013 में न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज को खरीदा था, 31 जनवरी, 2018 को न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में अमेरिकी शेयर बाजार का कुल मूल्य $ 30 ट्रिलियन से अधिक था।

चूंकि अमरीकी स्टॉक मार्केट में सूचीबद्ध विभिन्न प्रकार के उद्योगों से विभिन्न प्रकार की कंपनियां हैं, इसलिए स्टॉक एक्सचेंजों ने अर्थशास्त्रियों, फंड मैनेजरों, पत्रकारों, व्यापारियों और अन्य लोगों की मदद के लिए विभिन्न अमरीकी स्टॉक इंडेक्स बनाया है।

निम्नलिखित 3 अमेरिकी सूचकांक सबसे महत्वपूर्ण और सबसे अधिक अनुसरण किया जाता हैं। उनमें से प्रत्येक का एक विशिष्ट उद्देश्य है:

☑️ S&P 500: यह सूचकांक मशहूर वाल स्ट्रीट के न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध 500 सबसे बड़ी कंपनियों के मूल्य को मापता है और इसे संपूर्ण रूप से अमेरिकी शेयर बाजार का सबसे अच्छा प्रतिनिधि माना जाता है।

☑️ नैस्डैक 100: यह सूचकांक नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध 100 सबसे बड़ी कंपनियों के मूल्य को मापता है। जबकि इस सूचकांक में विभिन्न प्रकार के उद्योगों की कंपनियां शामिल हैं (मुख्य रूप से प्रौद्योगिकी कंपनियों), लेकिन इसमें वित्तीय कंपनियां जैसे बैंक शामिल नहीं हैं। नैस्डैक 100 सूचकांक अमेरिकी प्रौद्योगिकी क्षेत्र का सबसे अच्छा प्रतिनिधि माना जाता है।

☑️ डॉव जोन्स 30: सूचकांक बनाने वाले 30 शेयरों का उद्देश्य प्रमुख क्षेत्रों को प्रतिबिंबित करना है जो अमेरिकी अर्थव्यवस्था को चलाते हैं। इस कारण से, विभिन्न उद्योगों की कई कंपनियां शामिल हैं। 2019 में, डॉव जोन्स 30 कंपनियों में से कुछ मुख्य कंपनियां में अमेरिकन एक्सप्रेस, ऐप्पल, बोइंग, कोका-कोला, डिज़्नी, गोल्डमैन सैक्स, मैकडॉनल्ड्स, माइक्रोसॉफ्ट, नाइके और वेरिज़ोन शामिल थे।

अगर आप शेयर बाजार के सेक्टर के बारे में जानना चाहते हैं तो हम आपको यह लेख पढ़ने की सलाह देंगे: 11 Sectors In Stock Market - एक अवलोकन   

आगे हम देखेंगे invest in US stocks from India के तरीके के बारे में चर्चा करेंगे। 

एक लाइव खाता खोलें

लाइव बाज़ारों में ट्रेड करें और कॉपी ट्रेडर्स की सदस्यता लें कुशलता से निवेश करें

How To Buy US Stocks From India

Invest in US stock market from India शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले एक लाइव या डेमो ट्रेडिंग खाता खोलना होगा। उसके बाद मुफ्त मेटाट्रेडर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डाउनलोड करना होगा। 

तो मेटा ट्रेडर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म इस्तेमाल कर how to trade inUS markets from India? यह बहुत सरल है, बस निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

1️⃣ अपना मेटा ट्रेडर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म खोलें

2️⃣ अपनी स्क्रीन के ऊपर स्थित 'व्यू' ड्रॉप-डाउन मेनू से 'मार्केट वॉच' विंडो प्रदर्शित करें। कीबोर्ड शॉर्टकट CTRL + M दबाने से भी यह विंडो खोला जा सकता है जो उन वित्तीय साधनों को सूचीबद्ध करता है जिन्हें आप अपने चार्ट के बाईं ओर व्यापार कर सकते हैं।

3️⃣ आपके द्वारा खोले गए विंडो के भीतर कहीं भी राइट क्लिक करें और 'सिंबल' चुनें। आप CTRL + U कीबोर्ड शॉर्टकट का उपयोग करके भी इस विंडो को खोल और बंद कर सकते हैं।

4️⃣ जो नई विंडो खोलेगा वो सभी बाजारों का विवरण देती है जिसमें आप निवेश कर सकते हैं।

Source: Admiral Markets MetaTrader 5 Supreme Edition , produced October 4, 2019. पिछला प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का या भविष्य के प्रदर्शन का विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

अब आप बाएं माउस बटन के साथ जिस संपत्ति में आप व्यापार करना चाहते हैं उस पर क्लिक करें और इसे अपने उद्धरण प्रदर्शित करने के लिए मुख्य चार्ट पर खींचें। एक बार स्टॉक या इंडेक्स चार्ट आपकी स्क्रीन पर होने के बाद, आप ऑर्डर टिकट खोल सकते हैं:

1️⃣ मूल्य चार्ट पर, अपने माउस को राइट क्लिक करें

2️⃣ 'ट्रेडिंग' चुनें

3️⃣ 'न्यू ऑर्डर' पर क्लिक करें। आप F9 कीबोर्ड शॉर्टकट भी दबा सकते हैं

4️⃣ ऑर्डर टिकट खुलने के बाद, आपको अपने लेन-देन की मात्रा (लॉट में स्थिति का आकार), आपके स्टॉप लॉस का मूल्य, आपके टेक प्रॉफिट और आस्थगित ऑर्डर के मामले में वांछित प्रवेश मूल्य दर्ज करना होगा।

Source: Admiral Markets MetaTrader 5 Supreme Edition , produced October 4, 2019. पिछला प्रदर्शन भविष्य के परिणामों का या भविष्य के प्रदर्शन का विश्वसनीय संकेतक नहीं है।

Invest In US Stocks From India के लिए इन बातों पर ध्यान दें

Trading in US market from India के लिए आपको कुछ बातों पर ध्यान देना चाहिए। आइये देखें वह क्या हैं:

▶️ एक अच्छा ब्रोकर चुनें - Invest In US Stocks From India

सबसे पहले आपको एक ऐसा ब्रोकर चुनना होगा जो आपको अमेरिकी शेयर बाजार में निवेश करने का मौका दे। एक अच्छे ब्रोकर के साथ, आप चंद सेकंड में अमेरिकी स्टॉक खरीद और बेच सकते हैं। यह समझना महत्वपूर्ण है कि आपके द्वारा चुना गया ब्रोकर आपके द्वारा निवेश किए जाने वाले धन का मालिक है। इसलिए एक विनियमित ब्रोकर का चयन करना आवश्यक है जो सर्वोत्तम सुरक्षा स्थितियों और उच्चतम संभव गारंटी की पेशकश करता है।

Admiral Markets सेशेल्स के फाइनेंसियल सर्विसेज अथॉरिटी के तहत पूरी तरह से विनियमित है।

इसके अलावा, जो लोग एडमिरल मार्केट्स के तेज, मुफ्त और सुरक्षित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करना चाहते हैं, वे एक नकारात्मक बैलेंस संरक्षण नीति से लाभान्वित होते हैं। यह आपको प्रतिकूल बाजार आंदोलनों से बचाने में मदद करता है और आपको यह अवसर देता है।

क्या आप जानते हैं कि आप अपने धन को जोखिम में डाले बिना आप इन सभी सुविधाओं का उपयोग कर सकते हैं। एक मुफ्त डेमो खाता खोलकर Admiral Markets का परीक्षण करें। यह आपको जोखिम मुक्त वातावरण में व्यापार करने की अनुमति देता है जब तक कि आप लाइव ट्रेडिंग खाते में स्विच करने के लिए तैयार न हों।

अपना निःशुल्क डेमो खाता खोलने के लिए, बस नीचे दिए गए तस्वीर पर क्लिक करें।

दुनिया के शीर्ष उपकरणों में निवेश करें

आपकी उंगलियों पर हजारों स्टॉक और ईटीएफ

▶️ अमेरिका शेयर मार्केट के ट्रेडिंग घटें - Invest In US Stock Market From India

How to invest in US stock market from India के लिए अमरीकी बाज़ारों के ट्रेडिंग घंटे जानना महत्वपूर्ण है। आखिर कब व्यापार करना है और कब नहीं - यह सूचना बहुत ही ज़रूरी है। है ना?

अमेंरिकी स्टॉक एक्सचेंज न्यूयॉर्क का समय (पूर्वी समय) सोमवार से शुक्रवार सुबह 9:30 बजे खुलता है और शाम 4:00 बजे बंद हो जाता है।

मतलब अमरीकी स्टॉक एक्सचेंज भारतीय समय शाम 8 बजे से रात 2.30 बजे तक खुले रहते हैं, सोमवार से शुक्रवार।

एक वर्ष के दौरान काफी सारे सांविधिक अवकाश हैं जब अमेरिकी बाजार बंद रहता हैं। एडमिरल मार्केट्स इकोनॉमिक कैलेंडर का उपयोग से आप इन सार्वजनिक छुट्टियों के बारे में अवगत रह पाएंगे।

अमरीकी बाजार सम्बंधित तथ्य कैसे प्राप्त करें - How Can I Invest In US Stock Market From India

ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म आपको अमेरिकी स्टॉक मार्केट पर सट्टा लगाने के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण जानकारी तक पहुंच प्रदान करता है। इनमें अमेरिकी शेयर बाजार की खबरें और विभिन्न सूचीबद्ध कंपनियों के अमेरिकी शेयर मूल्य चार्ट और अमेरिकी शेयर सूचकांक शामिल हैं।

इसके लिए आपको विभिन्न तरह के चार्ट देखना होगा, जो की एक अच्छा ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म से संभव है।

Admiral Markets मेटाट्रेडर उपकरणों के साथ सीधे अमेरिकी शेयर बाजारों के चार्ट तक पहुंच प्रदान करता है।

Admiral Markets निम्नलिखित मेटा ट्रेडर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करते हैं:

➡️ मेटाट्रेडर 4

➡️ मेटाट्रेडर 5

➡️ मेटा ट्रेडर वेबट्रैडर

उपरोक्त प्लेटफार्मों के माध्यम से, आप अमेरिकी शेयर बाजार के साथ-साथ कई अन्य देशों के वित्तीय बाजारों में व्यापार कर सकते हैं।

दुनिया के शीर्ष उपकरणों में निवेश करें

आपकी उंगलियों पर हजारों स्टॉक और ईटीएफ

Invest In US Shares From India के फायदे और नुकसान

Investing in US stocks from India के कई फायदे हैं जैसे के:

➡️ यह रुझानों और गति के मामले में अग्रणी बाजार है

➡️ बाजार पूंजीकरण के हिसाब से यह दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है  

➡️ स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध कंपनियों की सबसे बड़ी संख्या से पोर्टफोलियो में विविधता लाने में आसानी

➡️ बड़ा ट्रेडिंग वॉल्यूम, इसलिए बेहतर तरलता का लाभ उठाएं

➡️ कई सारे ऑनलाइन ब्रोकरों के बीच अपना पसंदीदा ब्रोकर चुनें

➡️ अनगिनत ट्रेडिंग और निवेश के अवसर

हालाँकि कुछ नकारात्मक पक्ष भी हैं:

➡️ अमरीकी बाजार का समय भारतीय समय के मुकाबले थोड़ा असुविधाजनक है

➡️ अल्पकालिक ट्रेडिंग जटिल है, जिसके वजह से सीखने की आवश्यकता है

अमेरिकी बाजार को क्या प्रभावित करता है? - How To Invest In US Stock Market 

सफलता के साथ invest in US stock from India करने के लिए यह जानना बहुत ज़रूरी है की अमरीकी बाज़ारों को क्या प्रभावित करता है। सबसे महत्वपूर्ण करक निम्नलिखित है:

▶️ अमेरिकी अर्थव्यवस्था

आर्थिक वृद्धि के दौरान शेयर बाजार में उच्चतर चाल होती है, क्योंकि ये अक्सर बढ़े हुए रोजगार, उपभोक्ता खर्च और कॉर्पोरेट मुनाफे में बदल जाते हैं।

जब कंपनियां अधिक लाभ कमाती हैं, तो निवेशक अधिक स्टॉक खरीदने की प्रवृत्ति रखते हैं, जो बदले में अमेरिकी शेयर बाजार को समग्र रूप से आगे बढ़ाने में मदद करता है।

इसलिए, निवेशक अमेरिकी आर्थिक संकेतकों पर पूरा ध्यान देते हैं, जैसे:

➡️ NFP रोजगार के आकड़ें 

➡️ अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेड की नीति

➡️ CPI और PCI मुद्रास्फीति रिपोर्ट

➡️ खुदरा बिक्री के आंकड़े

➡️ विनिर्माण और गैर-विनिर्माण क्षेत्रों के बारे में ISM PMI का सर्वेक्षण

निवेशक और व्यापारी विभिन्न आर्थिक संकेतकों में रुझान की तलाश करते हैं। उदाहरण के लिए, यदि बेरोजगारी की दर बढ़ जाती है और खुदरा बिक्री के आंकड़ों में गिरावट आती है, तो यह कम उपभोक्ता खर्च में बदल सकता है और कॉर्पोरेट मुनाफा को प्रभावित कर सकता है। इससे कुछ निवेशक अपने निवेश को बदल सकते हैं और अपने फंड को कहीं और स्थानांतरित कर सकते हैं, जिससे शेयर बाजार की सामान्य दिशा प्रभावित होती है।

▶️ अमेरिकी नीति

अमेरिका सरकार की नीति अमेरिकी शेयर बाजार पर बड़ा प्रभाव डाल सकती है।

शेयर बाजार पर नीति के प्रभाव मुख्य रूप से चुनाव के मौसम के दौरान महसूस किए जाते हैं, जब राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बड़े निगमों और उपभोक्ताओं के लिए अपने कार्यक्रम पेश करते हैं।

उदाहरण के लिए, जब नवंबर 2016 में डोनाल्ड ट्रम्प को संयुक्त राज्य अमेरिका का राष्ट्रपति चुना गया था, तो अमेरिकी शेयर बाजार ने बहुत मजबूत बहु-वर्षीय तेजी रैली शुरू की। इसके पीछे कारण यह है कि डोनाल्ड ट्रम्प ने कॉर्पोरेट करों में कटौती करने का वादा किया था, जिसका अर्थ अमेरिकी व्यवसायों के लिए अधिक लाभ था।

कुछ निवेशकों के लिए, उच्च अस्थिरता के समय में व्यापार करना मुश्किल हो सकता है। यही कारण है कि सही वित्तीय उत्पादों तक पहुंच होना महत्वपूर्ण है।

उदाहरण के लिए, एडमिरल मार्केट्स सीएफडी ट्रेडिंग खाते प्रदान करते हैं, जिसके द्वारा कि व्यापारियों को वित्तीय बाजारों के उदय और गिरावट से लाभ हो सकता है।

Admiral Markets के साथ How To Buy US Stocks From India?

Admiral Markets के साथ अमरीका के स्टॉक एक्सचेंज और अन्य बाजारों में व्यापार करना छोटे और दीर्घकालिक दोनों व्यापारियों के लिए कई अनूठी विशेषताओं और लाभों की पेशकश करता है, जैसे के:

➡️ कई प्रकार के ट्रेडिंग और निवेश खाते खोलने की सुविधा, जैसे कि Invest.MT5 जहां आप 15 वैश्विक स्टॉक एक्सचेंजों से कंपनियों के शेयर खरीद सकते हैं और मुफ्त रीयल-टाइम मार्केट डेटा प्राप्त कर सकते हैं।

➡️ सीएफडी ट्रेडिंग खाता के माध्यम से 1: 1000 तक का लिवरेज का लाभ उठाएं। उत्तोलन का प्रभाव लाभ को बढ़ाता है, लेकिन नुकसान भी।

➡️ दुनिया का सबसे तेज़ और सबसे सुरक्षित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म मेटा ट्रेडर इस्तेमाल करें - यह विंडोज, मैक, iOS, एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ-साथ अधिकांश इंटरनेट ब्राउज़रों के लिए उपलब्ध है।

➡️अमेरिकी स्टॉक, अंतर्राष्ट्रीय स्टॉक, स्टॉक सूचकांक, कमोडिटीज़ और मुद्रायें जैसे कई परिसंपत्ति वर्ग में ट्रेडिंग का सुविधा।

➡️ इक्विटी सीएफडी के माध्यम से व्यापार, उपयोगकर्ताओं को मार्जिन पर व्यापार करने की अनुमति देता है, जिसका अर्थ है कि आपको एक बड़ी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए केवल एक छोटी जमा राशि की आवश्यकता है।

➡️ स्टॉक को शार्ट सेल करना, जिसका अर्थ है कि आप संभावित रूप से बाजारों को ऊपर और नीचे दोनों चाल पर व्यापार कर सकते हैं।

क्या आप शुरू करने के लिए उत्सुक हैं? तो देर न करें!

बस नीचे तस्वीर पर क्लिक करें और अभी एक ट्रेडिंग खाता खोलें।

एक लाइव खाता खोलें

लाइव बाज़ारों में ट्रेड करें और कॉपी ट्रेडर्स की सदस्यता लें कुशलता से निवेश करें

ट्रेडिंग के सम्बन्ध में और भी अधिक जानना चाहते हैं? हम आपको यह तीन लेख पड़ने का सलाह देंगे:

सबसे अच्छा brokerage शुल्क कैसे प्राप्त करें?

Online Share Trading - एक शुरुआती गाइड

सबसे महत्वपूर्ण European Markets

एडमिरल मार्केट्स एक विश्व स्तर पर विनियमित विदेशी मुद्रा और सीएफडी ब्रोकर जो बहु-पुरस्कार का विजेता है। बहुत सारे उपकारणों के इलावा एडमिरल मार्केट्स के वेबसाइट में कई सरे शिक्षा सम्बंधित लेखे है जहाँ से आपको फोरेक्स, शेयर मार्किट, निवेश और भी बहुत कुछ के बारे मे  तथ्य मिलेगा। दुनिया के सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से 500 से अधिक वित्तीय साधनों पर व्यापार की पेशकश करते हैं: मेटा ट्रेडर 4 और मेटा ट्रेडर 5 ।आज ही ट्रेडिंग शुरू करें!

 

इस लेख में दिया गया तथ्य को वित्तीय साधनों में किसी भी लेनदेन के लिए निवेश सलाह, निवेश अनुशंसाएं, प्रस्ताव या अनुशंसा के रूप में समझा नहीं जाना चाहिए। कृपया ध्यान दें कि इस तरह का ट्रेडिंग विश्लेषण किसी भी वर्तमान या भविष्य के प्रदर्शन के लिए एक विश्वसनीय संकेतक नहीं है, क्योंकि समय के साथ परिस्थितियां बदल सकती हैं। कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले, आपको इस विषय से सम्बंधित जोखिमों को समझने के लिए स्वतंत्र वित्तीय सलाहकारों से सलाह लेनी चाहिए।

TOP ARTICLES
ETF क्या है? What Is ETF In Hindi?
Exchange traded funds या ईटीएफ ऐसे फंड हैं, जो परिसंपत्तियों की एक समूह को शामिल करते हैं, लेकिन स्टॉक एक्सचेंज में एकल साधन के रूप में सूचीबद्ध होते हैं।यदि आप अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाना चाहते हैं, या आप सुनिश्चित नहीं हैं कि किस विशिष्ट स्टॉक में निवेश करना है, तो यह संभवतः ईटीएफ में निवेश...
डोव जोंस इंडेक्स | Dow Jones Index In Hindi - सम्पूर्ण अवलोकन
Dow Jones index या डीजेआई 30 दुनिया में तीन सबसे महत्वपूर्ण सूचक में से एक है। इसलिए, डॉव जोन्स के साथ काम करने से हमें सबसे शक्तिशाली वित्तीय बाजारों में से एक के आंदोलनों का लाभ उठाने का अवसर मिलता है। विषय सूची What is Dow Jones Index In Hindi? Dow Jones स्टॉक इंडेक्स - गठन...
Commodity trading - क्या? कैसे? कहाँ?
वित्तीय बाज़ारों में व्यापार करते समय कमोडिटी ट्रेडिंग सबसे दिलचस्प विषयों में से एक है। हालाँकि ज़्यादातर लोग शेयर ट्रेडिंग के बारे में अक्सर अवधारणा रखते हैं, commodities trading के बारे में हर किसी को ज़्यादा ज्ञान नहीं होता है। कमोडिटी बाजार क्या होता है? कमोडिटी ट्रेडिंग क्या है? कमोडिटी ट्रेडिंग...
सभी देखें