MT4 Supreme Edition इंडीकेटर पैकेज

इस मैनुअल में आपको MT4 Supreme Edition के लिए इंस्टॉलेशन और उपयोग हेतु निर्देश मिलेंगे। इंस्टॉलेशन प्रक्रिया और उपयोगनए MT5 Supreme Edition जैसा ही है।तदनुसार अपने MetaTrader 5 Supreme Edition में वर्णित निर्देशों का पालन करें।

इंडीकेटर सहायक टूल हैं, जो MetaTrader 4 ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर के पूरक हैं। इनसे आमतौर पर चार्ट को निजी गणितीय सूत्र के माध्यम से विश्लेषण किया जाता है और चार्ट के संभावित उतार-चढ़ाव के बारे में चार्ट हिस्‍ट्री से निष्कर्ष निकालने में सहयोग मिलता है।

इंडीकेटर, चार्ट का विश्लेषण करने, रुझान और मूल्‍य के उतार या चढ़ाव को पहचानने में सहायता करने हेतु ट्रेडिंग सिग्‍नल उपलब्‍ध कराते हैं।

1.इंडीकेटर इंस्टॉल करना और खोलना

MT4 Supreme एडिशन डाउनलोड करेंसुनिश्चित करें कि इंस्टॉलेशन प्रक्रिया के दौरान MetaTrader 4 बंद है।

डाउनलोड पूरा हो पर खोलें.zip फाइल, तथाडबल क्लिक करेंAdmiral-MT4— Apps.exe फाइल .zip में एक्जीक्यूट करने के लिए आर्काइब करें।इससे इंस्टॉलेशन सहायक आरंभ हो जाएगा।

Admiral अपडेट विंडो

यदि आपके सिस्टम पर इंस्टॉल सॉफ्टवेयर के मल्टीपल दृष्टांत हैं, तो उपयोग करेंMetaTrader बटन तलाशें, सही वर्शन खोजने के लिए।

क्लिक करें इंस्टॉल करें बटन और इंस्टॉलेशन सफलतापूर्वक पूरा होने तक स्क्रीन के चरणों का पालन करें।

नेविगेटर विंडो

इंस्टॉलेशन के बाद आप अपने MetaTrader सॉफ्टवेयर इंटरफेस के नेविगेटर विंडो में इंडीकेटर पा सकेंगे।

चार्ट में उनमें से एक को रखने के लिए:

  1. राइट-क्लिक करेंसंबंधित इंडीकेटर, और
  2. चुनें चार्ट से अटैच करें, अथवा
  3. ड्रैग करते हुए इंडीकेटर को चार्ट विंडो में सीधे ड्रॉप करें।

2.Admiral कैंडल काउंटडाउन इंडीकेटर

इंडीकेटर इनेबल होते ही अगले कैंडल तक का समय दिखने लगेगा।

आमतौर पर यह संख्या चार्ट विंडो के नीचे-दाएं कोने में दिखाई देगी। हालांकि, चार्ट में इंडीकेटर लागू करते समय सेटिंग विंडो में प्रकट होने पर इसे कस्टमाइज किया जा सकता है।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

2.1.कैंडल काउंटडाउन इंडीकेटर की सेटिंग

कैंडल काउंटडाउन इंडीकेटर की निजी सेटिंग हैं:

  1. लेबल पोजीशन - कैंडल काउंटडाउन टाइमर का पोजीशन सेट करें
  2. कलर - डिस्‍प्‍ले संख्या का कलर सेट करें
  3. फांट और फांट साइज - फांट और फांट साइज कांफिगर करें।

टाइमर को कैंडल के बगल में दाएं सेट किया जा सकता है। ऐसा करने के लिए विकल्प खोलें मूल्‍य के अनुरूप। ध्यान दें कि इस काम के लिए ऑटोमैटिक चार्ट स्क्रॉलिंग को एक्टिव करने की आवश्यकता होती है।

इसके अतिरिक्त, आप लाइन में नए कैंडल के लिए अलार्म सेट कर सकेंगेअलर्ट.

कस्टम इंडीकेटर - Admiral कैंडल काउंटडाउन विन्‍डो

3.Admiral चार्ट समूह इंडीकेटर

Admiral चार्ट ग्रुप इंडीकेटर मल्टीपल चार्ट कनेक्ट करने के लिए एक उपयोगी टूल है। उदाहरण के लिए, आप प्रत्येक चार्ट के लिए अलग-अलग टाइम-फ्रेम के साथ एक ही इंस्ट्रूमेंट कई बार देख सकेंगे और केवल एक क्लिक में सभी चार्ट के सिंबल बदल सकेंगे।

चार्ट ग्रुप इंडीकेटर का मुख्य लाभ एक चार्ट विंडो के सिंबल बदलने भर से इसमें सारे चार्ट विन्‍डो के सिंबल बदलने की क्षमता है।इंडीकेटर से सभी संलग्न चार्ट के लिए कस्टमाइजेशन ऑटोमैटिक रूप से लागू होता है।

इंडीकेटर का सही ढंग से उपयोग करने के लिए आपको अपने पसंदीदा समस्त चार्ट विन्‍डो के लिए इसे लागू करना होगा। इसके बाद, प्रत्येक प्रभावित चार्ट के निचले-दाएं कोने में एक टेक्स्ट बॉक्स दिखाई देगा।

चार्ट समूह बनाने के लिए मैन्युअल रूप से एक नाम सेट किया जा सकता है, जो टेक्स्ट के नाम जैसा हो। यह विकल्प केस-सें‍सटिव नहीं है।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

4.Admiral फ्रीहैंड ड्राइंग इंडीकेटर

Admiral फ्रीहैंड ड्रॉइंग इंडीकेटर एक ऐसा टूल है, जिससे चार्ट में फ्रीहैंड ड्राइंग की जाती है।

इंडीकेटर को चार्ट पर लागू करें और फिर होल्‍ड करेंD माउस के साथ ड्रॉ करने के लिए।

हर्ट से स्क्रीनशॉट

4.1.सेटिंग्स और कीबाइंडिंग्स

ड्राइंग का मानक कलर लाल है, लेकिन विभिन्न की प्रेस करके कलर कस्टमाइज किया जा सकता है, प्रेस करें:

  1. B नीले कलर के लिए
  2. Y पीले कलर के लिए
  3. N काले कलर के लिए
  4. W सफेद कलर के लिए।

मानक कलर लाल पर वापस जाने के लिए, बस R प्रेस करें।

खींची गई आखिरी वस्तु भी X दबाकर डिलीट की जा सकती है।

इसके अतिरिक्त, इंडीकेटर की सेटिंग्स स्क्रीन में कीबाइंडिंग और कलरकस्टमाइज किए जा सकते हैं।

इंडीकेटर कस्टमाइज करें- Admiral फ्रीहैंड ड्राइंग विन्‍डो

5.Admiral हाई-लो इंडीकेटर

Admiral हाई-लो इंडीकेटर चयनित समय-सीमा में उच्चतम और निम्नतम मूल्य मान दिखाता है।

यह समस्त मानक टाइम विन्‍डो जैसे मिनट, घंटे या दिनों में काम करता है ।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

इंडीकेटर के लिए मानक सेटिंग दैनिक उच्च और निम्न पॉइंट हैं।

सेटिंग स्क्रीन में अपनी पसंद के संबंधित हॉरिजंटल कलर कस्टमाइज किए जा सकते हैं।

5.1.हाई-लो इंडीकेटर की सेटिंग्स

  1. हाई और लो के लिए टाइमफ्रेम - इंडीकेटर की समय इकाई को बदलता है।
  2. बार से आरंभ करें - चुनें कि क्‍या वर्तमान या पूर्व कैंडल उच्च और निम्न की गणना के लिए संदर्भ पॉइंट है या नहीं।
  3. शामिल करने के लिए बार संख्या - हाई और लो की गणना के लिए विचार की जाने वाली कैंडल की संख्या सेट करें।
  4. डेली टाइम रेंज - वैकल्पिक रूप से हाई एवं लो की गणना वाले दिन का समय सीमित करता है।
  5. ओपन-क्लोज के साथ-साथ हाई-लो के लिए टाइम फ्रेम – लागू करना - यह तय करता है कि क्‍या सेट टाइम-फ्रेम ओपन और क्लोज लाइन पर लागू होता है या नहीं।
  6. हाई और लो लाइन के लिए कलर - हाई और लो लाइनों के लिए कलर कस्टमाइज करता है।
  7. राशि से बढाएं/घटाएं – हाई और लो इंडीकेटर को अंदर या बाहर ले जाता है।
  8. विस्तृत करने के लिए यूनिट - उपरोक्त विकल्प में उपयोग किए जाने वाले माप की यूनिट सेट करें।
  9. लाइन स्टाइल - ओपन-क्लोज लाइनों की स्टाइल कस्टमाइज करें।
  10. ओपन लाइन के लिए कलर - वर्तमान ओपन लाइन एक्टिवेट करता है और इसका कलर सेट करता है (कोई कलर सेट न होने तक डिसेबल रहता है) ।
  11. क्लोज लाइन के लिए कलर - वर्तमान क्लोज लाइन को एक्टिवेट करता है और इसका कलर सेट करता है (कोई कलर सेट न होने तक डिसेबल रहता है) ।
  12. विगत क्लोज लाइन के लिए कलर - पूर्व क्लोज लाइन को एक्टिवेट करता है और उसका कलर सेट करता है (कोई कलर सेट न होने तक डिसेबल रहता है) ।
  13. लेबल-सेटिंग्स - लेबल को कस्टमाइज करता है, टेक्स्ट, फांट इत्यादि को एडजस्ट करता है, ।
  14. अलर्ट-सेटिंग्स - यह तय करता है कि कीमत किसी लाइन को पार करने पर अलार्म बजे या नहीं।
कस्टम इंडीकेटर - Admiral हाई-लो

6.Admiral लोकल टाइम इंडीकेटर

Admiral लोकल टाइम इंडीकेटर, चार्ट के निचले भाग में सर्वर समय के अतिरिक्त आपका स्‍थानीय समय दर्शाने का विकल्प उपलब्‍ध कराताहै।

डिस्‍प्‍ले कलर कस्टमाइज किया जा सकता है।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

7.Admiral ऑर्डर हिस्ट्री इंडीकेटर

Admiral ऑर्डर हिस्ट्री इंडीकेटर, चार्ट में आपके पिछले ट्रेड का सुव्यवस्थित प्रतिनिधित्व प्रस्तुत करता है।

लाभप्रद ट्रेड हरे कलर की लाइन में डिस्‍प्‍ले होते हैं, नुकसान वाले ट्रेड लाल कलर में होते हैं।

किसी भी लाइन पर माउस घुमाने से ट्रेड के बारे में जैसे लाभ/ हानि, ओ‍पनिंग और क्‍लोजिंग मूल्य, S/L तथा T/P की विस्तृत जानकारी डिस्‍प्‍ले होगी।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

यह उदाहरण इस ट्रेड के लिए €33.90 का लाभ दिखाता है

चार्ट में नीले और भूरे कलर के बार सभी ट्रेड सिंबल में पिछले ट्रेड पर अतिरिक्त संदर्भ उपलब्‍ध कराते हैं।

नीला बार उसी सिंबल में ट्रेड को, जबकि भूरा बार अन्य सभी सिंबल में ट्रेड को दर्शाता है।

7.1.ऑर्डर हिस्ट्री इंडीकेटर की सेटिंग

  1. ओपन ट्रेड शामिल करें? - तय करता है कि वर्तमान में ओपन ट्रेड दर्शाए जाएं या नहीं।
  2. ट्रेडों की कलर कोडिंग - इस इंडीकेटर की कलर कोडिंग, लाभ/हानि या खरीद/बिक्री के मोड को बदलता है।
  3. कलर –लाभ या बॉय लाइन का कलर निर्धारित करता है।
  4. कलर 2 - हानि या सेल लाइन के लिए कलर सेट करता है।
  5. खुले ट्रेड के लिए - ओपन आर्डर के पॉइंट दर्शाने वाले मार्कर का कलर सेट करता है।
  6. एंट्री और एक्जिट मार्कर - मार्कर का प्रकार बदलता है।
  7. ओपन से क्लोज लाइन - हिस्‍ट्री बार का स्टाइल बदलता है।
  8. स्टॉप-लॉस लाइन कलर स्टाइल - स्टॉप लॉस लाइन के कलर और स्टाइल को सेट करता है (एक्टिवेट करने के लिए स्टाइल की आवश्यकता होती है)।
  9. टेक-प्रॉफिट लाइन कलर स्टाइल - टेक-प्रॉफिट लाइन के कलर और स्टाइल को सेट करता है (एक्टिवेट करने के लिए स्टाइल की आवश्यकता होती है)।
  10. ट्रेड अवधि एक्टिवेट करने के लिए बैंड दिखाएं - चार्ट के नीचे अन्य सिंबल में ट्रेड के डिस्‍प्‍ले को एक्टिवेट या डी-एक्टिवेट करता है।
  11. इन-फिल्टर-कलर और आउट-ऑफ-फिल्टर कलर - एक्टिवेट सिंबल या अन्य सिंबल में ट्रेड के लिए बार का कलर बदलता है।
  12. बैंड का साइज (पिक्सेल)) - बार का साइज बदलता है।
  13. फिल्टर सेटिंग्स - डिस्‍प्‍ले ट्रेड के लिए एक निजी फिल्टर सेट करता है।

8.Admiral पिवट इंडीकेटर

पिवट पॉइंट, चार्ट में विभिन्न प्रतिरोध और सपोर्ट लाइने दिखाते हैं, जबकि पीपी-लाइन सबसे महत्वपूर्ण सपोर्ट और प्रतिरोध लाइन है।

R1, R2 और R3 कम महत्व के साथ प्रतिरोध वृद्धि के प्रतिनिधित्व करते हैं। दूसरी तरफ, S1, S 2 और S3 सपोर्ट वृद्धि के प्रतिनिधित्व करते हैं।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

8.1.पिवट इंडीकेटर की सेटिंग्स

  1. पिवट पॉइंट के लिए टाइमफ्रेम - टाइम-फ्रेम सेट करता है जो पिवट पॉइंट की गणना के लिए आधार है।
  2. शामिल करने के लिए बार की संख्या - पिवट पॉइंट की गणना करने के लिए उपयोग की जाने वाली कैंडल की मात्रा सेट करता है।
  3. पीपी लेवल के लिए गणना - पिवट पॉइंट की मूल्य गणना हेतु विधि सेट करता है।
  4. चार्ट में सभी तरह के लाइन शो - पूरे चार्ट के साथ लाइने दर्शाता है।
  5. सभी लाइन के लिए लेबल शो - पिवट लाइनों के लिए लेबल इनेबल करता है।
  6. लेबल (+फ्यूचर के लिए) हेतु बार ऑफसेट – लाइन लेबल को दाएं या बाएं खिसकाएं।
  7. लेबल के लिए फांट नाम - लाइन लेबल के लिए फांट का प्रकार सेट करता है।
  8. लेबल के लिए फांट साइज - लाइन लेबल के लिए फांट साइज सेट करता है।
  9. कलर और स्टाइल - सभी निजी लाइन का कलर और स्टाइल सेट करता है।
  10. अलर्ट - मूल्य-क्रॉसिंग लाइनों के लिए अलर्ट सेट करता है।

9.Admiral रेन्को इंडीकेटर

रेन्को इंडीकेटर का उपयोग तकनीकी चार्ट विश्लेषण के लिए किया जाता है।

यह चार्ट का वैकल्पिक रूप दर्शाता है और मूल्य में वास्तविक उतार-चढ़ाव होने पर केवल नए कैंडल ड्रा करता है। इस तरह, रूझान को प्रभावित न करने वाले मामूली मूल्य उतार-चढ़ाव अनदेखा कर दिए जाते हैं और समग्र तस्वीर अस्पष्ट नहीं होती है।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

9.1.रेन्को इंडीकेटर की सेटिंग

  1. पिप्स में रेन्को ब्लॉक साइज - रेन्को ब्लॉक का साइज सेट करता है।
  2. सिंबल पाइप साइज - इंस्ट्रूमेंट का पिप साइज सेट करता है।
  3. ऊपर और नीचे ब्लॉक के लिए कलर - रेन्को ब्लॉक का कलर कस्टमाइज करता है।
  4. सतत् ब्लॉक ड्रा - एडजस्ट करता है कि ब्लॉक सतत् हैं या नहीं।
  5. अगले ब्लॉक के लिए लक्ष्य लाइने - इंडीकेटर लाइनों की स्टाइल बदलता है।
  6. चार्ट के शीर्ष पर ड्रा - यह तय करता है कि क्‍या रेन्को ब्लॉक सम्‍मुख या बैकग्राउंड में दिखाई देता है।
  7. नए ब्लॉक पर अलर्ट - नए ब्लॉक ड्रा करने के लिए अलर्ट सेट करता है।
  8. प्रारंभिक मूल्य का राउंड - यह तय करता है कि क्‍या प्रारंभिक मूल्य को राउंड करना है या नहीं।
  9. अधिकतम ऐतिहासिक ब्लॉक - एक समय में दिखने वाले ब्लॉक की संख्या सेट करता है।
  10. हिस्‍ट्री अवधि से रेन्को डेटा बिल्‍ड- रेन्को इंडीकेटर की गणना करने वाले टाइम-फ्रेम तय करता है।
  11. CSV/TSV लॉग - यह तय करता है कि फाइल नाम इनपुट करके और प्रारूप चुनकर लॉग फाइल रखना है या नहीं।
  12. ऑफलाइन - सेटिंग्स कांफिगर करता है (अध्याय 9.2 देखें।)।

9.2.ऑफलाइन चार्ट खोलें

ऑफलाइन चार्ट अवधि बनाएं - आपके वांछित ब्‍लॉक की मात्रा सेट करता है जो MT4 में किसी मानक टाइम-फ्रेम से मेल नहीं खाता है, जैसे कि 10 पिप्स रेन्को ब्लॉक के लिए 10.

ऑफलाइन चार्ट खोलने के लिए:

  1. क्लिक करें फाइल और फिर ओपन ऑफलाइन
  2. डबल क्लिक चुने गए टाइम-फ्रेम वाले चार्ट पर।

ऑफलाइन चार्ट खुल जाएगा। इस उदाहरण में, ऑफलाइन चार्ट M10 होगा।

प्लेटफॉर्म स्क्रीनशॉट

खोले गए ऑफलाइन चार्ट में चुने गए पिप्स की मात्रा के अनुसार एकीकृत साइज वाले कैंडल होंगे। मूल्‍य उतार-चढ़ाव को फिल्टर और अनदेखा किया जाता है। रूझान, प्रतिरोध और सपोर्ट अधिक स्पष्ट किए जाते हैं।

10.Admiral स्प्रेड इंडीकेटर

स्प्रेड इंडीकेटर, किसी इंस्ट्रूमेंट के स्प्रेड को मापने और प्रलेखित करने का एक टूल है। एक बार चार्ट पर लागू किए जाने के बाद हटाए जाने तक यह स्प्रेड दर्शाता है। डिस्‍प्‍ले जानकारी में उपलब्‍ध होता है:

  1. अधिकतम
  2. न्यूनतम, और
  3. प्रति समयावधि औसत स्प्रेड ।

ऑफलाइन चार्ट खुल जाएगा। इस उदाहरण में, ऑफलाइन चार्ट M10 होगा।

स्प्रेड EUR / USD स्क्रीनशॉट स्‍पेड
DAX40 में स्प्रेड, आमतौर पर 0.8 अंक स्क्रीनशॉट पर तय किया जाता है DAX40 में स्प्रेड, आमतौर पर 0.8 अंक पर तय किया गया है

11.Admiral डे सेशन इंडीकेटर

डे सेशन इंडीकेटर, रात्रि में ट्रेडिंग समय के दौरान उत्पन्न कैंडल को छुपा सकता है। इससे आप सामान्य रूप से अपनी पुरानी सेटिंग्स और संकेतकों के साथ काम करना जारी रख सकेंगे।

इसके अतिरिक्त, आप सेशन के लिए आप अपनी टाइम विंडो बना सकेंगे, जैसे DAX40 Xetra 09:00 बजे से 17:30 बजे CET तक।

डिफॉल्ट रूप से, इंडीकेटर नियमित DAX40 सेशन पर 08:00 बजे से 22:00 बजे CET तक डिस्‍प्‍ले करने के लिए सेट होता है।

आरंभ करने के लिए:

  1. चार्ट पर इंडीकेटर लागू करें, फिर
  2. क्लिक करें फाइल और चुनें ओपन ऑफलाइन, फिर
  3. ऑफलाइन चार्ट में खोलने के लिए सिंबल चुनें।

ऐसा किया जा सकता है:

  1. किसी भी समय एक्टिवेट चार्ट में डिस्‍प्‍ले की अवधि बदलें - इससे आपके ऑफलाइन चार्ट में अवधि बदल जाएगी, और
  2. ऑफलाइन चार्ट में टेम्पलेट्स, इंडीकेटर और विशेषज्ञ सलाहकार लागू करें।

11.1.डे सेशन इंडीकेटर की सेटिंग्स

कस्टम इंडिकेटर - Admiral डे सेशन विन्‍डो
  1. ऑफलाइन चार्ट के लिए टाइमफ्रेम - ऑफलाइन चार्ट का आईडी दर्शाता है।
  2. अवधि में शामिल है - ऑफलाइन चार्ट में आपके वांछित डिस्‍प्‍ले सेशन का टाइमविंडो दर्शाता है (सर्वर समय का उपयोग किया जाता है)।
  3. N मिनट तक बार टाइम शिफ्ट करें - डिस्‍प्‍ले किए गए समय (उदाहरण के लिए सीईटी के लिए -60) को एडजस्ट करता है।

12.Admiral चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर

Admiral चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर आपको मुख्य चार्ट इंडीकेटर विंडो के अंदर एक दूसरा चार्ट डिस्‍प्‍ले करता है। इससे आपको एक ही समय में दो इंस्ट्रूमेंट दिखाई देंगे। उदाहरण के लिए, संभावित सहसंबंधों को देखने के लिए।

अतिरिक्त चार्ट, मुख्य चार्ट के अंदर डिस्‍प्‍ले किया जाता है।

दूसरे चार्ट में इंडीकेटर जोड़ना संभव है। आप चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर के लिए इंडीकेटर सेटिंग्स के माध्यम से इन्हें एक्टिवेट और कांफिगर कर सकेंगे।

ध्यान दें कि आप इस तरह चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर पर डिस्‍प्‍ले दूसरे इंस्ट्रूमेंट को ट्रेड नहीं कर सकेंगे, केवल मुख्य चार्ट में इंस्ट्रूमेंट डिस्‍प्‍ले होगा। चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर पूरी तरह कार्यात्मक चार्ट का प्रतिनिधित्व नहीं करता है।

Admiral चार्ट-इन-चार्ट इंडीकेटर स्क्रीनशॉट

12.1.चार्ट-इन-चार्ट सेटिंग्स

  1. सिंबल - दूसरे चार्ट में डिस्‍प्‍ले होने वाला पसंदीदा ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट चुनें (सही नामों के लिए मार्केट अवलोकन विंडो देखें)
  2. इंवर्ट प्राइस - इंस्ट्रूमेंट की कीमतों को उलटाता है (उदाहरण के लिए EUR/USD परिवर्तित होकर USD/EUR में हो जाएगा)
  3. ड्रा स्टाइल - विभिन्न चार्ट स्टाइल, जैसे कि कैंडल, अंतिम मूल्य या हाई और लो चुनें।
  4. लाइन/हाई-लो कलर - चार्ट लाइनों के लिए कलर सेट करें।
  5. कैंडल बॉडी-बुल - तेजी, ऊपर की ओर कैंडल के लिए कलर सेट करें
  6. कैंडल बॉडी - बीयर - मंदी, नीचे की ओर कैंडल सेट करें।
  7. वर्तमान मूल्य लाइन के लिए कलर - वर्तमान मूल्य डिस्‍प्‍ले वाली लाइन के लिए कलर सेट करें।
  8. ओपनिंग पोजीशन लाइन के लिए कलर - ओपन पोजीशन के लिए कलर सेट करें। यह विकल्प डिफॉल्ट रूप से डी-ऐक्टिवेट है।
  9. s/l and t/p लाइनों के लिए कलर - स्टॉप लॉस या टेक प्रॉफिट ऑर्डर (डिफॉल्ट रूप से डी-एक्टिवेट) के लिए कलर सेट करें।
  10. पेंडिंग ऑर्डर लाइनों के लिए कलर - लंबित ऑर्डर के लिए कलर सेट करें (डिफॉल्ट रूप से डी-एक्टिव)।
  11. ओपन पोजीशन और लंबित ऑर्डर के लिए लाइन स्टाइल - लाइनों की स्टाइल सेट करता है, जो सॉलिड लाइन, डॉट लाइन, डैश लाइन अथवा दोनों के संयोजन चुनकर ओपन और ऑर्डर लंबित चिह्नित करता है।
  12. इंडीकेटर - दूसरे चार्ट पर प्रयुक्‍त होने वाले इंडीकेटर का चयन और कांफिगर करें। आगे पैरामीटर सेटिंग्स वाले इंडीकेटर को संबंधित विकल्प के अंतर्गत यहां कस्टमाइज किया जा सकता है।

13.Admiral Magnifier इंडीकेटर

Admiral Magnifier से अगली छोटी टाइम सेटिंग देखने के लिए चार्ट के एक खंड पर जूम इन किया जा सकता है।

मैग्निफाई किए जाने वाले एरिया के साइज को बढ़ाने या घटाने के लिए अपनी पसंद के इंडीकेटर के साइज एडजस्ट किए जा सकते हैं। बस इंडीकेटर के किनारों पर क्लिक करें और वांछित साइज पाने के लिए ड्रैग करें।

मैग्निफिकेशन की डिग्री भी एडजस्ट की जा सकती है, उदाहरण के लिए M30 चार्ट उपयोग करते हुए भी Magnifier से हमेशा M1 चार्ट का उपयोग किया जा सकता है।

13.1.Magnifier सेटिंग

  1. चार्ट टाइमफ्रेम/प्रकार – यहां आप जूम इन किए जाने पर अपेक्षित Magnifier चुन सकेंगे। डिफॉल्ट सेटिंग एक अवधि छोटी है।
  2. ड्रॉ स्टाइल – कैंडल, अंतिम मूल्‍य अथवा हाई-लो जैसे विभिन्‍न चार्ट स्टाइल को चुनें।
  3. बैक ग्राउंड कलर – इंडिकेटर का बैकग्राउंड कलर सेट करता है।
  4. अप बार कलर - ऊपर की ओर कैंडल तथा बार के लिए कलर सेट करता है।
  5. डाउन बार कलर – नीचे की ओर कैंडल तथा बार के लिए कलर सेट करता है।
  6. Magnifier हाईलाइट कलर - मैग्निफाइड एरिया का कलर सेट करें।
  7. क्षैतिज ग्रिड लाइनें – यहां आप क्षैतिज रेखाओं के बीच की दूरी निर्धारित कर सकते हैं। ध्यान दें कि यह सेटिंग प्रत्येक उपकरण के लिए अलग-अलग है। उदाहरण के लिए, EUR/USD में यह 0.0020 है जबकि DAX40 में यह 20 है।
  8. वर्टिकल ग्रिड लाइने – लंबवत लाइनों के बीच दूर सेट की जा सकती है।
  9. ग्रिड लाइनों हेतु कलर – ग्रिड का कलर सेट करता है।
  10. कैंडल साइज – कैंडल का साइज बढ़ाता या घटाता है।
  11. इनिशियल लेफ्ट पोजीशन – पिक्सल में दिए गए अमाउंट द्वारा चार्ट के मानक पोजीशन को दाएं खिसकाएं।
  12. इनिशियल टॉप पोजीशन – पिक्सल में दिए गए अमाउंट द्वारा चार्ट के मानक पोजीशन को नीचे खिसकाएं।
  13. इनिशियल पोजीशन हेतु कॉर्नर – मैग्निफाई एरिया में डिस्‍प्‍ले होने वाले चार्ट का कॉर्नर चुनें।
  14. इनिशियल विड्थ – पिक्‍सल में मानक आयाम सेट करें।
  15. इनिशियल हाइट – पिक्‍सल में मानक हाइट सेट करता है।
  16. टॉप तथा बॉटम पर पैडिंग – चार्ट के किनारे से कैंडल की नतम दूरी सेट करें।
  17. इंफो बार हाइट – इन्फो बार का साइज सेट करता है।

14.Admiral मिनी चार्ट इंडीकेटर

मिनी चार्ट इंडीकेटर से मुख्‍य चार्ट के अंदर पूरी तरह कस्टमाइज योग्‍य चार्ट डिस्‍प्‍ले किया जा सकता है।इंस्ट्रूमेंट और टाइम फ्रेम मुख्‍य चार्ट से पूरी तरह से स्‍वतंत्र है तथा मिनी चार्ट को मल्टीपल इंडीकेटर के साथ प्रयोग किया जा सकता है।

Admiral मिनी चार्ट इंडीकेटर स्क्रीनशॉट

14.1.मिनी चार्टिंग सेटिंग

  1. चार्ट सिंबल – ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट चुनें। सुनिश्चित करें कि स्‍पेलिंग मार्केट अवलोकन में डिस्‍प्‍ले किए गए नाम की स्‍पेलिंग के अनुरूप हो।
  2. इंवर्ट प्राइस – मूल्‍य उलटा होता है। उदाहरण के लिए EUR/USD से USD/EUR.
  3. चार्ट टाइमफ्रेम/प्रकार – मिनी चार्ट के लिए टाइम फ्रेम सेट करता है। डिफॉल्ट सेटिंग मुख्‍य चार्ट की वर्तमान अवधि है। MetaTrader, जैसे 3M, 4M अथवा 12M में सामान्‍य रूप से अनुपलब्‍ध किसी अन्‍य अवधि को चुना जा सकता है। अधिक स्‍पष्‍टीकरण के लिए अध्‍याय 14.2 देखें।
  4. प्रति बार टिक्‍स – एक कैंडल के लिए प्रयुक्‍त टिक्‍स की अमाउंट सेट करते हैं। केवल टिक चार्ट के लिए प्रासंगिक
  5. ट्रांसफॉरमेशन – चार्ट सेलेक्‍शन-परिवर्तित इंडीकेटर, जैसे हैकिन अशी अथवा थ्री लाइन ब्रेक से चुनें।
  6. रेंको/रेंज/कागी/P&F ब्‍लॉक साइज – ब्‍लॉक साइज को निर्धारित यूनिट में सेट करता है (नीचे देखें)।
  7. ब्‍लॉक साइज के लिए यूनिट – ब्‍लॉक साइज की यूनिट परिभाषित करता है।
  8. रेंज तथा P&F के लिए रीवर्सल फैक्‍टर – पलटवार कारक, उतार-चढ़ाव के पहले ब्‍लॉक की संख्‍या दूसरी दिशा में ड्रा की जाती है।
  9. ऐतिहासिक रेंको, रेंज कागी, P&F डेटा के लिए बेस टाइमफ्रेम – कैंडल की गणना करने के लिए प्रयुक्‍त टाइम फ्रेम।
  10. ड्रा स्टाइल – कैंडल जैसा चार्ट स्टाइल चुनता है।
  11. बैकग्राउंड कलर – इंडीकेटर के लिए बैकग्राउंड कलर सेट करता है।
  12. अप बार कलर – ऊपर की ओर के कैंडल तथा बार के लिए कलर सेट करता है।
  13. डाउन बार कलर– नीचे की ओर के कैंडल तथा बार के लिए कलर सेट करता है।
  14. फिक्‍स्‍ड मैक्सिमम प्राइस – चार्ट के लिए निर्धारित अधिकतम मूल्‍य सेट करता है।
  15. फिक्‍स्‍ड मिनिमम प्राइस – चार्ट के लिए निर्धारित न्‍यूनतम मूल्‍य सेट करता है।
  16. मिनिमम/मैक्सिमम में शामिल इंडीकेटर – चार्ट के न्‍यूनतम/अधिकतम मूल्‍य के लिए इंडीकेटर मूल्‍य उपयोग करना चुनता है।
  17. ग्रिड लाइनों हेतु कलर – ग्रिड के लिए कलर सेट करता है।
  18. क्षैतिज ग्रिड लाइनें – यहां आप क्षैतिज रेखाओं के बीच की दूरी निर्धारित कर सकते हैं। ध्यान दें कि यह सेटिंग प्रत्येक उपकरण के लिए अलग-अलग है। उदाहरण के लिए, EUR/USD में यह 0.0020 है जबकि DAX40 में यह 20 है।
  19. वर्टिकल ग्रिड लाइने – लंबवत लाइनों के बीच दूरी सेट करती है।
  20. जूम लेवल – चार्ट का जूम लेवल सेट करता है। जूम लेवल 0 मैग्निफिकेशन का न्‍यूनतम, जबकि जूम लेवल 5 अधिकतम अमाउंट दर्शाता है।
  21. इनिशियल लेफ्ट पोजीशन – पिक्सल में दिए अमाउंट द्वारा चार्ट के मानक पोजीशन को दाएं खिसकाएं।
  22. इनिशियल टॉप पोजीशन – पिक्सल में दिए अमाउंट से चार्ट के मानक पोजीशन नीचे खिसकाएं।
  23. इनिशियल पोजीशन हेतु कॉर्नर – मिनी चार्ट के पार्स डिस्‍प्‍ले होने वाले चार्ट का कार्नर चुनें।
  24. इनिशियल विड्थ – पिक्‍सल में मानक आयाम सेट करें।
  25. इनिशियल हाइट – पिक्‍सल में मानक हाइट सेट करें।
  26. टॉप तथा बॉटम पर पैडिंग –चार्ट के किनारे से कैंडल की न्‍यूनतम दूरी सेट करें।
  27. राइट पैडिंग – चार्ट शिफ्ट फंक्‍शन। पिक्‍सल की अकाउंट जितनी अधिक होगी, चार्ट और चार्ट के दाहिने बॉर्डर के बीच उतनी ही दूरी अधिक होगी।
  28. इंफो बार हाइट – इन्फो बार का साइज सेट करें।
  29. इंडिकेटर – दूसरे चार्ट पर लागू होने वाले कांफीगर संकेतकों को चुनें। आगे पैरामीटर सेटिंग्स वाले इंडीकेटर को संबंधित विकल्प के अंतर्गत यहां कस्टमाइज किया जा सकता है।

14.2.चार्ट के प्रकार पर स्‍पष्‍टीकरण

दूसरा चार्ट (S5, S15, आदि) - MT4 में नियमित मिनट चार्ट की तरह से इनसे निर्धारित सेकंड के अंतराल पर कैंडल ड्रा किया जा सकता है। S5 चार्ट हर पांचवे सेकंड एक नया कैंडल ड्रा कर सकता है। ध्‍यान दें कि दूसरे चार्ट के लिए कोई ऐतिहासिक डेटा नहीं है, इसलिए इंडीकेटर अटैच किए जाते ही इस प्रकार के चार्ट बना जाते हैं।

रेंज चार्ट - पिप्‍स की निश्चित संख्‍या द्वारा मूल्‍य के उतार-चढ़ाव पर ही नए कैंडल ड्रा किए जा सकते हैं। स्‍टैकिंग रेंज चार्ट समान सिद्धांत पर कार्य करता है लेकिन ऐसे में उसी दिशा में कैंडल पॉइंटिंग को एक ही कैंडल में शामिल किया जा रहा है।

रेंको चार्ट - इस प्रकार का चार्ट, रेंज चार्ट जैसा ही कार्य करता है।रूझान की विपरीत दिशा में ब्‍लॉक ड्रा करने के लिए कम से कम 2 ब्‍लॉक का परस्‍पर उतार-चढ़ाव हो।

कागी चार्ट - मूल्‍य के पलटवार पर पहुंचने से यह चार्ट दिशा बदल लेता है, जो विगत हाई-लो पॉइंट से आगे निकल जाता है।

पॉइंट एवं फीगर चार्ट - रेंज चार्ट जैसा ही लेकिन चाल उसी दिशा में स्‍टैक करता है। पलटवार तभी होता है जब कोई प्रतिकूल चाल ब्‍लॉकों की निर्धारित अमाउंट के लिए चाल उलटी हो।इसके लिए मानक सेटिंग 3 ब्‍लॉक है लेकिन रेंज तथा P&F सेटिंग के लिए पलटवार कारक के अंतर्गत परिवर्तित नहीं हो सकता है।

15.Admiral सिंबल इंफो इंडीकेटर

Admiral सिंबल इंफो इंडीकेटर से अतिरिक्‍त विंडो में रियल टाइम अपडेट जानकारी का एक खास सेट दिखाई देगा। यह चुने गए टाइमफ्रेम के आरंभिक कोर्स, दैनिक हाई तथा रूझान इंडीकेटर की अधिकता (मल्‍टीट्यूड) के बीच प्रतिशत अंतर को दर्शाता है, जो पूरी तरह से कस्टमाइज किए जाने योग्‍य है।

एक ऐसा तीर जिससे प्रथम दृष्‍टया देखा जा सकता है कि आरंभिक मूल्‍य से चाल ऊपर गई अथवा नीचे आई। इसके अतिरिक्‍त आपको पिप्‍स में अंतर सीधे तौर पर देखने को मिलेगा।

दाईं ओर एक बार दिखेगा, जो उस दिन के पूरे रेंज के अनुपात में वर्तमान मूल्‍य पोजीशन दर्शाएगा।

Admiral सिंबल इंफो इंडिकेटर विंडो

15.1.सिंबल इंफो सेटिंग

  1. सिंबल – ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट चुनें। डिफॉल्ट सेटिंग आपके वर्तमान चार्ट में सिंबल है लेकिन अपनी इच्‍छानुसार अलग-अलग सिंबल चुने जा सकते हैं। सुनिश्चित करें कि स्‍पेलिंग मार्केट अवलोकन में डिस्‍प्‍ले किए गए नाम की स्‍पेलिंग के अनुरूप हो।
  2. पिप आकार का उपयोग करें – सेट करें कि किस आकार को एक पिप से सहसंबद्ध करना चाहिए। उदाहरण के लिए, DAX40 में 1 का आकार आपको पूर्ण बिंदुओं में मूल्य आंदोलनों को देखने की अनुमति देता है।
  3. %परिवर्तन के लिए टाइमफ्रेम – संदर्भ के बतौर उपयोग किए जाने वाले प्रतिशत परिवर्तन का टाइमफ्रेम सेट करता है। वर्ततान दिन के अनुरूप डिफॉल्ट सेटिंग D1 है
  4. % परिवर्तन हेतु बार संख्‍या – संदर्भ के बतौर उपयोग किए जाने वाले प्रतिशत परिवर्तन के केंडल का अमाउंट सेट करता है। उदाहरण के लिए पूरे वर्ष में प्रतिशत में परिवर्तन देखने के लिए मासिक चार्ट में 12 कैंडल का उपयोग किया जा सकता है।
  5. हाई/लो के लिए टाइमफ्रेम – हाई/लो चार्ट में उपयोग किए जाने के लिए टाइमफ्रेम सेट करें। डिफॉल्ट सेटिंग में प्रतिशत परिवर्तन की तरह ही टाइम फ्रेम का उपयोग करें।
  6. हाई/लो के लिए बार संख्‍या – हाई/लो चार्ट में उपयोग किए जाने के लिए कैंडल का अमाउंट सेट करें उदाहरण के लिए पूरे वर्ष की तुलना में मूल्‍य की चाल देखने के लिए मासिक चार्ट में 12 कैंडल का उपयोग किया जा सकता है।
  7. बैकग्राउंड कलर – इंडीकेटर के लिए बैकग्राउंड कलर सेट करें।
  8. राइज कलर – ऊपर की चाल के लिए कलर सेट करें।
  9. फॉल कलर – नीचे की चाल के लिए कलर सेट करें।
  10. टेक्‍स्‍ट कलर – टेक्‍स्‍ट के लिए कलर सेट करें।
  11. इनिशियल लेफ्ट पोजीशन – पिक्सल में दिए अमाउंट से चार्ट के मानक पोजीशन दाएं खिसकाएं।
  12. इनिशियल टॉप पोजीशन – पिक्सल में दिए अमाउंट से इंडीकेटर के मानक पोजीशन नीचे खिसकाएं।
  13. इनिशियल पोजीशन हेतु कॉर्नर – डिफॉल्ट से इंडीकेटर दिखने के लिए चार्ट का कॉर्नर चुनें।
  14. इंडीकेटर – दूसरे चार्ट पर लागू होने वाले कांफीगर संकेतकों को चुनें। आगे पैरामीटर सेटिंग्स वाले इंडीकेटर को संबंधित विकल्प के अंतर्गत यहां कस्टमाइज किया जा सकता है।

16.Admiral ग्रेविटी इंडीकेटर

Admiral ग्रेविटी इंडीकेटर 10000 ऐतिहासिक M5 कैंडल तक प्रतिरोध तथा सपोर्ट जोन दर्शाता है।उन जोन से इस हिस्‍ट्री में हाई और लो पहुंचता है, जबकि वर्तमान डेटा पुराने मूल्‍य से अधिक महत्‍वपूर्ण है।

डार्क कलर सशक्‍त सपोर्ट या प्रतिरोध जोन का सिग्‍नल देता है, मूल्‍य बाउंस ऑफ कर सकता है।डार्क ब्‍लू जोन तोड़ने को कंटीन्‍यूएशन सिग्‍नल माना जाएगा। ब्राइटर जोन की कोई प्रासं‍गि‍कता नहीं है।

16.1.ग्रेविटी सेटिंग

  1. टाइम अवधि – नियमित गणना या अल्‍प गणना अवधि मध्‍य चुनें।
  2. लेवल X कलर – विभिन्‍न प्रकार के जोन के लिए कलर सेट करें

16.2.गणना एरिया बदलें

जोन की गणना के लिए संदर्भ एरिया को चार्ट में कहीं भी लंबवत रेखा खींचते हुए खिसकाएं और इसे नाम दें GStart

फिर आप चार्ट जोन की गणना करते समय ध्‍यान में रखने के लिए टाइम में अतिम पॉइंट सेट करने हेतु खिसका सकेंगे।

17.Admiral Keltner इंडीकेटर

Admiral Keltner इंडीकेटर चार्ट में Keltner चैनल बनाता है। इसकी कार्यप्रणाली, बॉय और सेल सिग्‍नल बोलिंगर बैंड जैसे ही हैं। फिर भी इस चैनल में बैंड की गणना ATR इंडीकेटर के आधार पर की जाती है।

परिणाम स्‍वरूप इस चैनल में बोलिंगर बैंड की अपेक्षा गणना करने में कम त्र‍ुटियां होती है।

Admiral Keltner इंडीकेटर स्क्रीनशॉट

अपर बैंड क्रास करने अथवा मूविंग ऐवरेज को संबधित कंटीन्‍यूशन सिग्‍नल के बतौर देखा जा सकता है।मिडिल लाइन तथा मूविंग ऐवरेज, स्‍टॉप लॉस लाइन को लोकप्रिय कैंडीडेट है।

17.1.Keltner सेटिंग

  1. मूविंग ऐवरेज का प्रकार – मूविंग ऐवरेज का प्रकार सेट करें।
  2. मूविंग ऐवरेज हेतु मूल्‍य – मूविंग ऐवरेज की गणना के लिए प्रयुक्‍त मूल्‍य सेट करें।
  3. मूविंग ऐवरेज अवधि – मूविंग ऐवरेज के लिए अवधि चुनें।
  4. ATR अवधि –ATR के लिए अवधि चुनें।
  5. ATR मल्टीपल – Keltner बैंड की गणना के लिए मल्‍टीप्‍लीकेटर सेट करें।
  6. मूल्‍य के अपर/लोअर चैनल पार करने पर अलर्ट – चैनल के अपर/लोअर बैंड के क्रॉस करने पर अलार्म सेट करें।

18.बारंबार पूछे जाने वाले सवाल

  1. क्‍या इंडीकेटर MT5 के संगत हैं? नहीं।
  2. क्‍या एक्‍सटेंशन को MetaTrader सॉफ्टवेयर से व्‍यक्तिगत तौर पर हटाया जा सकता है? हां, नेविगेटर विंडो में राइट-क्लिक करके अलग से एक्‍सटेंशन हटाए जा सकते हैं।
  3. क्‍या इंडीकेटर अन्‍य भाषाएं सपोर्ट करते हैं? नहीं, हमारे संकेतकों में लेबल और सेटिंग केवल अंग्रेजी में उपलब्‍ध कराए जाते हैं।

19.अधिक जानकारी

अस्‍वीकरण:

Aglobe Investments Ltd MT4 में विशेषज्ञ सलाहकार प्रौद्योगिकी के आधार पर इन ऐड-ऑन की निःशुल्क आपूर्ति करता है। सभी EAs की तरह, ये केवल तभी सक्रिय होते हैं जब आपके MetaTrader ने इंटरनेट और हमारे सर्वर से कनेक्शन स्थापित कर लिया हो। Aglobe Investments Ltd ने अपनी तकनीकी विश्वसनीयता का पूरी तरह से परीक्षण किया है और खुद को आश्वस्त किया है। हालांकि, सभी तकनीकों की तरह, खराबी को कभी भी पूरी तरह से खारिज नहीं किया जा सकता है। सुनिश्चित करें कि आप सभी add-ins और एक्सटेंशन की कार्यक्षमता को पूरी तरह से समझते हैं, उदा. Aglobe Investments Ltd के एक मुफ्त डेमो खाते के साथ व्यापक रूप से उनके उपयोग का अभ्यास करके। Aglobe Investments Ltd तकनीकी जटिलताओं के कारण होने वाले नुकसान या अन्य क्षति के लिए दायित्व नहीं ले सकता है।